fbpx Press "Enter" to skip to content

चाईबासा सदर अस्पताल की व्यवस्था पर नाराज हुए मुख्यमंत्री

  • बच्ची को भोजन में केवल भात देने पर हुई कार्रवाई

रांची: चाईबासा के सदर अस्पताल में एक बच्ची को भोजन में केवल भात मिलने की

घटना पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोमवार को संझान लिया। उन्होंने चाईबासा

(प. सिंहभूम) के डीसी अरवा राजकमल को तत्काल ही मामले की जांच करने और दोषियों

के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया। मुख्यमंत्री के निर्देश के तुरंत बाद डीसी ने

स्वयं अस्पताल जाकर पूरे मामले की जांच की। जांच के बाद उन्होंने बच्चे को केवल भात

परोसे जाने और सब्जी दाल देने में विलम्ब करने वाले कर्मी को तत्काल प्रभाव से

निलंबित करने का निर्देश दे दिया है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश देने के

साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के सभी अधिकारी और सभी कर्मी संवेदनशील होकर

कार्य करें। कार्य के दौरान सेवा भावना को सबसे उपर रखें। इस बात का उल्लेख किया गया

था कि देशभर के अस्पतालों में बच्चियों की लगातार हो रही मौत के बाद भी सरकारी

अस्पताल सुधर नहीं रहे है। ठीक ऐसा ही एक वाकया चाईबासा अस्पताल में देखने को

मिला, जब एक बच्ची को अस्पताल में भोजन में केवल भात दिया गया है। न ही सब्जी न

ही दाल।

चाईबासा के डीसी खुद सदर अस्पताल पहुंचे और जायजा लिया

मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद बच्ची को देखने अस्पताल पहुंचे चाईबासा डीसी ने

बताया कि दोनों बच्चे अभी ठीक हैं और उन्होंने स्वयं उनसे मिलकर बात की है। उन्होंने

कहा कि सिविल सर्जन स्वयं अपनी निगरानी में बच्चों के भोजन एवं अन्य देखभाल कर

रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि वे स्वयं देखेंगे कि बच्चों को हर सम्भव सहायता मिले।

सोशल मीडिया की शिकायतों पर ध्यान

मुख्यमंत्री ने इसके अलावा भी सोशल मीडिया में चर्चा में आने वाली शिकायतों पर ध्यान

देना प्रारंभ कर दिया है। सार्वजनिक तौर पर ट्विटर हैंडल पर ही वह संबंधित जिला के

प्रमुख अधिकारियों को शिकायतों पर ध्यान देने तथा आवश्यकता पड़ने पर कार्रवाई करने

का निर्देश जारी कर रहे हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पश्चिम सिंहभूमMore posts in पश्चिम सिंहभूम »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

2 Comments

Leave a Reply