fbpx Press "Enter" to skip to content

राज्य के निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा नकदी लेन-देन से बचें

  • गाड़ी से 50 हजार से ज्यादा मिला तो होगा जब्त
  • दस हजार से अधिक का उपहार भी प्रलोभन
  • पूरी प्रक्रिया की होती रहेगी वीडियोग्राफी
  • गैर कानूनी सामान मिलने पर भी कार्रवाई
संवाददाता

रांची: राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा विधानसभा चुनाव के

सिलसिले में आदर्श चुनाव आचार संहिता प्रभावी है। निर्वाचन प्रक्रिया की

शुचिता और पारदर्शिता बनाए रखने के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने

निर्वाचन व्यय अनुवीक्षण को लेकर कई दिशा निर्देश दिए हैं, जिसका

अक्षरश: पालन किया जाना है।

इसके तहत उड़नदस्ता टीम, स्थैतिक निगरानी टीम अथवा प्रवर्तन

एजेंसियों द्वारा यदि जांच के दौरान किसी वाहन से 50 हजार रुपए से

ज्यादा नकद पाया जाता है या किसी वाहन से अवैध शराब, मादक

पदार्थ, ड्रग्स या अवैध हथियार या गैर कानूनी सामान मिलता है

अथवा 10 हजार रुपए से ज्यादा कीमत की ऐसी उपहार सामग्री मिलती

है, जिसका इस्तेमाल मतदाताओं को प्रलोभन दिए जाने के लिए किए

जाने की संभावना हो तो वह जब्त करने के शर्तों के अधीन होगी।

ऐसे वाहनों की जांच और उसकी जब्ती की जानकारी संबंधित व्यक्ति

को दी जाएगी। इस पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी होगी।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने कहा है कि निर्वाचन

प्रक्रिया के दरम्यान वे नकदी लेन-देन से बचें और भारी मात्रा में नकदी

लेकर आवागमन नहीं करें। उन्होंने यह भी कहा कि आम लोगों की

शिकायतों का निरारण करने के लिए हर जिले में तीन अधिकारियों की

समिति बनाई गई है। इस समिति में मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी,

जिला परिषद / उप विकास आयुक्त, जिला निर्वाचन कार्यालय में व्यय

अनुवीक्षण के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी और जिला कोषागार

पदाधिकारी सदस्य होंगे।

राज्य के निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा हर जगह जांच टीम

समिति ऐसे सभी मामलों का अवलोकन करेगी और जब्ती पर निर्णय लेगी

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि उड़नदस्ता, स्थैतिक निगरानी

दल तथा प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा की गई जब्ती के प्रत्येक मामले की

जांच उपरोक्त तीन सदस्यीय समिति करेगी। समिति अगर जांच में यह

पाती है कि मानक प्रचालन प्रक्रिया के अनुसार जब्ती के संबंध में कोई

प्राथमिकी या शिकायत दर्ज नहीं की गई है या जहां जब्ती किसी अभ्यर्थी

या राजनीतिक दल या ।किसी निर्वाचन अभियान आदि से जुड़ी हुई नहीं है

तो वह ऐसे व्यक्तियों को, जिनकी नकदी जब्त की गई थी, उसे रिलीज

करने के बारे में एक तार्किक आदेश जारी करने के पश्चात रिलीज हेतु

तत्काल कदम उठाएगी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from चुनावMore posts in चुनाव »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!