Browsing Category

संपादकीय

जीएसटी पर अगर संशय है तो सुधार कर लेने में कोई हर्ज नहीं

जीएसटी पर खुद सरकार भी अपने फैसले को पूरी तरह सही नहीं मानती या दवाब में ऐसा कर रही है। अगर सुधार करना है तो इसे लटकाना नहीं चाहिए ताकि जनता को लाभ मिले

बेनामी संपत्ति का आरोप प्रत्यारोप चुनाव प्रचार में और पैराडाइज पेपर का बम

अब भी बड़ी पार्टियां चुनाव प्रचार में उन्हीं हथकंडों का इस्तेमाल कर रही हैं, जिनका अब वोटरों पर कोई असर नहीं होता। कोई अपनी योजना के बारे में नहीं बताता

अर्थव्यवस्था में सुधार की निरंतरता भी जरूरी, मोदी ने बिल्कुल सही कहा

नोटबंदी के बाद जीएसटी की वजह से देश के कारोबार का हाल बेहाल हुआ है। अनेक स्तरों पर जीएसटी में व्याप्त खामियां लगातार उजागर हो रही हैं।

खिचड़ी के बहाने भी लोग लगा रहे हैं अपना अपना दम, दम मारे दम.. .. ..

खिचड़ी पर भी लोग दम लगा रहे हैं। चुनावी मौसम में जिसे देखो वही अपने तरीके से दम लगा रहा है। आखिर कुछ न कुछ पाने के लिए दम तो लगाना ही पड़ता है भाई

चुनावी घोषणा पूरा करने का तरीका भी बताये कांग्रेस

कांग्रेस घोषणा तो कर देती है पर उन्हें पूरा करने का सही रास्ता नहीं बताती. यही वजह है कि अब कांग्रेस के चुनावी वादों को मतदाता भी गंभीरता से नहीं लेते।

नोटबंदी के बहाने शक्ति परीक्षण का लाभ किसे

8 नवंबर को भाजपा औऱ कांग्रेस जोर आजमाइश करेंगे। नोटबंदी के एक वर्ष पूरे होने पर ऐसा किया जा रहा है। जबकि समझना चाहिए कि वोटर इन बातों पर अब ध्यान नहीं देता।

आइपीएस की गिरफ्तारी से उठते सवाल, परीक्षा में चोरी करते पकड़ा गया

केरल का एक आइपीएस अधिकारी यूपीएससी की परीक्षा में चोरी करते रंगे हाथ पकड़ा गया। इससे सवाल उठ रहा है कि हम इस शिक्षा पद्धति से कैसे नागरिक तैयार कर रहे हैं

एटीएम हो रहे हैं लगातार बंद, देश के देश के बैंकों की असली स्थिति क्या है

देश में बैंकों ने लगातार एटीएम बंद करना प्रारंभ कर दिया है। हर सुविधा का पैसा लेने के बाद भी जब ये बंद होते हैं तो सवाल उठता है कि बैंकों की स्थिति क्या है।

याद है पाकीजा फिल्म का यह गीत- दिलदार चलो चांद के पार चलो.. .. .. ..

पाकीजा फिल्म का यह चर्चित गीत था यह। पता नहीं क्यों आजकल वाशिंगटन से लेकर गिद्दी वाशरी तक हर कोई यही गीत गुनगुनाता नजर आ रहा है। जरूर सबके अपने अपने कारण है

पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी का असली राज क्या, पत्रकारिता या राजनीति

छत्तीसगढ़ पुलिस ने पत्रकार विनोद वर्मा को गाजियाबाद से गिरफ्तार किया। एक मंत्री की सीडी होने का दावा करने वाले पत्रकार पर अब राजनीति गरमा गयी है।
Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE