Press "Enter" to skip to content

पुत्र को इंजीनियर बता शादी के नाम पर साढ़े छः लाख रुपए की ठगी

नटवरलाल पिता पुत्र सहित 6 लोगों पर प्राथमिकी हुई दर्ज

गिरिडीहः पुत्र को इंजीनियर बताकर शादी के नाम पर साढ़े छह लाख रुपये की ठगी में

रामगढ़ के पिता पुत्र पर मामला दर्ज हुआ है। गिरिडीह जिले के डुमरी प्रखंड अंतर्गत

अतकी पंचायत के व्यक्ति से लड़की की शादी का सब्जबाग दिखाकर रामगढ़ जिले के

नटवरलाल पिता-पुत्र द्वारा साढ़े छः लाख रुपए की ठगी कर लेने का मामला उजागर हुआ

है।मामले के सम्बन्ध में बोकारो के तेनुघाट थाना में कांड संख्या 53/2021 भादवि की धारा

420/406/120बी/34 के तहत दर्ज की गई है।कांड में 6 व्यक्तियों को आरोपी बनाया गया

है। दर्ज प्राथमिकी में पीड़ित पुत्री के भाई अजीम उल्लाह अंसारी निवासी साडम दलाल

टोला जिला बोकारो ने लिखा कि उसके बहनोई मनसूर निवासी डुमरी अतकी के रांची

स्थित नवनिर्मित मकान के निकट रामगढ़ जिले के घाटो थाना ड्राइवर हॉट क्वार्टर नंबर

ओटी45 निवासी मोहम्मद नसीर उद्दीन पुत्र स्वर्गीय नबीबख्श मियां ने भी जमीन खरीदा।

जिससे दोनों के बीच जान पहचान हुई। इसी बीच गत अक्टूबर 2019 में नसीरुद्दीन ने दो

लाख रुपए की मांग की। जिससे अपने पुत्र मोहम्मद अली को टाटा कम्पनी में इंजीनियर

बताकर प्रार्थी के बहन का विवाह अपने पुत्र से कर देने की बात कही।जिसके बाद पिता पुत्र

दोनों ने मिलकर तरह-तरह के बहाना बनाकर उनसे कुल साढ़े छः लाख रुपए झटक लिए।

पुत्र से शादी के बहाने से कुल रकम की यह ठगी की गयी

वहीं दिनांक 14 मई 2021 को उनके द्वारा उनकी बहन के साथ ठेका मंगनी भी कर दी

गई।लिखा कि जिसके बाद वर पक्ष के घर जाकर भी मंगनी की रस्म पूरी हुई। लेकिन गत

26 मार्च को उसने पुनः उनसे दो लाख रुपए की मांग कर दिया। कहा कि उसके भतीजी की

शादी है इज्जत की बात है। उस समय भी पैसे ले लिए गए। जिसके बाद 14 अप्रैल को पुनः

ठग पिता ने रांची के घर में प्लास्टर खिड़की दरवाजा लगाने के नाम पर उनसे ढाई लाख

रुपए ले लिए।उसके बाद 2 मई को लड़के को नौकरी में प्रमोशन के लिए रिश्वत देने की

बात कह कर दो लाख लिया। कुल मिलाकर उन्होंने साढ़े छः लाख रुपए झटक लिए।पैसे

उसके स्टेट बैंक खाता संख्या 31858375247 घाटो शाखा में ट्रांसफर किए गए। जिसके

बाद शादी की तिथि गत 17 मई 2021 की तय की गई। निमंत्रण पत्र बांट दिए जाने के बाद

पुनः ढाई लाख रुपए की मांग की गई। लेकिन आगे पैसे नहीं मिलने पर पंद्रह लाख रुपए

दहेज कहीं अन्य जगह मिलने की बात कहकर शादी से इंकार कर दिया गया।जिसपर

नियत तिथि को कन्या पक्ष द्वारा सारी तैयारियों के बीच बारात नही आई। प्राथमिकी में

लिखा कि कन्या गिरिडीह जिले के बिरनी प्रखंड में जीएनएम के पद पर कार्यरत है जिस

पर नौकरी छोड़ने का भी दबाव डाला जा रहा था।जबकि आरोपी का पुत्र टिस्को के वेस्ट

बोकारो में सहायक चालक के पद पर कार्यरत है।

जिसे इंजीनियर बताया था वह दरअसल सहायक चालक है

बताया जाता है कि पिता पुत्र दोनों मिलकर बोकारो के सीवनडीह, रामगढ़ के बरकाकाना

समेत कई जगहों से शादी करने के नाम पर लोगों से पैसे ऐंठ चुका है।फिर भी पिता पुत्र

अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।मामले की जानकारी दहेज मुक्त झारखंड के

राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय प्रसाद को मिलने पर उन्होंने बोकारो तथा रामगढ़ एसपी से

आरोपी को अविलंब गिरफ्तार किए जाने,टाटा प्रबंधन द्वारा ऐसे ठग कर्मी को नौकरी से

निष्कासित किए जाने तथा पीड़ित लड़की के परिजनों को रकम वापसी कराकर न्याय

दिलाने की मांग की है।अध्यक्ष श्री प्रसाद ने प्रेस बयान जारी कर कहा कि शीघ्र ही वे इस

मामले को लेकर मुख्य मंत्री हेमंत सोरेन से मिलेंगे।इस कांड में मो नसीर उद्दीन,मो

अली,लड़के की बहन व उसके पति, समीना खातून तथा मो नईम सभी साकिन घाटो कुल

6 व्यक्तियों को आरोपी बनाया गया है।

Spread the love
More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from गिरिडीहMore posts in गिरिडीह »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
Exit mobile version