fbpx Press "Enter" to skip to content

25 अप्रैल तक बंगलादेश में ‘कोविड-19’ के प्रसार को रोकने के लिए राष्ट्रव्यापी पूर्ण बंदी

ढाकाः 25 अप्रैल तक बांग्लादेश में कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ के प्रसार को रोकने के

लिए राष्ट्रव्यापी पूर्ण बंदी लागू की गयी है और सेना की गश्त बढ़ा दी गयी है। वहां भी हर

दिन कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है और मौत का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है।

सरकार ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सामाजिक दूरी बनाये रखने और

होम क्वारंटीन नियमों की अनदेखी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात

कही है। सेना अब बिना किसी कार्य से घरों से बाहर आने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेगी।

सेना ने इससे पहले देश की विभिन्न आपदाओं के दौरान महत्वूपर्ण भूमिका निभाई थी।

इंटर सर्विस पब्लिक रिलेशन के निदेशक ले. कर्नल अब्दुल्लाह इबने जयैद ने कहा कि

आज से देश के सभी हिस्सों में लोग सामाजिक दूरी बनाये रखें और घरों में ही रहें। उन्होंने

कहा कि सरकार की ओर से जारी निर्देश की अवहेलना करने वालों के खिलाफ सख्त

कार्रवाई की जाएगी। बंगलादेश सेना के 525 टीमों को स्थानीय प्रशासन की विभिन्न

गतिविधियों में मदद करने के लिए लगाया गया है।

25 अप्रैल से एक माह पहले से तैनात है सेना

सेना 25 मार्च से नागरिक प्रशासन की मदद में लगी हुई है। इससे पहले 23 मार्च से

सरकार ने सशस्त्र बलों के सेना, नौसेना और वायु सेना को कोरोना वायरस की स्थिति से

निपटने के लिए तैनात किया गया है। देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस से

छह लोगों की मौत हो गयी और 94 नये मामले सामने आये हैं। अब तक देश में 64 जिलों

में से 21 में कोरोना वायरस से 424 मामलों की पुष्टि हुई हैं। दरअसल संक्रमण से बचने के

लिए एक दूसरे से दूरी बनाकर रहने की सलाह को अब भी लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

इस वजह से ढाका में भी संक्रमण का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। हर रोज कोरोना संक्रमण

से पीड़ित नये नये रोग ईलाज के लिए अस्पताल में आ रहे हैं।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!