fbpx Press "Enter" to skip to content

झाड़ियों में लगी आग ओएनजीसी प्लांट तक पहुंचा, बड़ा हादसा टला

बेरमो /ललपनियाः झाड़ियों में लगी आग मंगलवार को दोपहर लगभग सवा दस बजे

ओएनजीसी प्लांट तक पहुंचने लगी थी। तेज गर्मी और हवा की वजह से यह आग तेजी से

आगे बढ़ रही थी। ओएनजीसी के साइट बीके 05 हजारी के बगल खेतों में जलाएं गए आग

के चिंगारी ने प्लांट को लपेटे में ले लिया था। जिस कारण वहां अफरातफरी मच गई मगर

साइड में प्रतिनियुक्त गार्ड प्रभारी राजेश कुमार रवि ने सूझबूझ दिखाते हुए अपने जवानों

के साथ मिलकर आग को बुझाता रहा।हलाकि घटना के बाद तत्काल इसकी सूचना अजय

कुमार झारखंड अग्नि शमन सेवा विभाग को दिया। उसके बाद ओएनजीसी के क्षेत्रीय

सुरक्षा पदाधिकारी जनार्दन महतो को दी गई । उन्होंंने कहा कि आपलोग तत्परता के साथ

आग बुझाने में सहयोग करें। जवानों ने जान जोखिम में डालकर अपने कर्तव्यों का

निर्वहन कर संघर्ष करते रहे कुछ ही देर बाद ओएनजीसी के प्रवीण कुमार भी आ गए।

उन्होंने भी तत्परता दिखाते हुए स्वयं आग बुझाने में सहयोग किया। सूचना के बाद फायर

ब्रिगेड की वाटर कैनन(दमकल कर्मियों)अपने टीम के साथ उपस्थित हुए

झाड़ियों में लगी आग को दमकल ने समय पर बूझाया

फायर ब्रिगेड की टीम आने से पूरी तरह से लगी आग बुझाने में कामयाब हो गए।समय

रहते जवानों ने तत्परता दिखाई जिससे ओएनजीसी के लाखों-करोड़ों रुपए की संपत्ति

जलने से बच गई। उपस्थित गार्ड प्रभारी रवि ने बताया कि प्रतिष्ठान के बगल खेतों में

आग लगा दी गई है जिसके कारण प्रतिष्ठान में आग लगने की संभावना बनी रहती है।

फिर भी जवान चौकसी एवं सतर्कता के साथ ड्यूटी में लगे हुए हैं। गर्मियों के मौसम में

सूखी झाड़ियों में आग लगने का खतरा हमेशा ही बना रहता है। ऐसी स्थिति में प्लांट के

करीब तक आग पहुंच जाने से बड़ा हादसा होने का भय बना रहता है। लेकिन यहां झाड़ियों

में लगी आग के प्लांट तक पहुंचने के पहले ही वहां तैनात लोगों ने समझदारी दिखाते हुए

इसपर काबू पा लिया

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बोकारोMore posts in बोकारो »
More from मौसमMore posts in मौसम »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from हादसाMore posts in हादसा »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: