fbpx Press "Enter" to skip to content

आस्था का केंद्र है महेशपुर स्थित बूढ़ा महादेव मंदिर, सावन में जुटती है भारी भीड़

अनगड़ा :आस्था का केंद्र होने के बाद भी वर्ष 2020 का सावन अद्भुत संयोग लेकर आ रहा

है। सोमवार से शुरू होने वाले सावन का समापन भी सोमवार को होगा। 6 जुलाई से आरंभ

होकर सावन 3 अगस्त को समाप्त होगा। ऐसे में प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में स्थित

शिवालयों में लोग पूजा की तैयारियों में जुटे हैं। महेशपुर स्थित बूढ़ा महादेव मंदिर लोगों

के आस्था का केंद्र है। सावन महीने में यहां बड़ी संख्या में लोग पूजा अर्चना करने आते हैं।

कहा जाता है कि यहां सच्चे मन से मांगी गई मन्नत भगवान शिव अवश्य पूरी करते हैं।

इसके पीछे एक पुरानी कथा है। जिसके अनुसार 17 वीं सदी में एक शिकारी शिकार के लिए

निकला।

आस्था के केंद्र से शिकारी ने प्रकाश निकलते देखा था

उसने यहां शिवलिंग से अद्भुत प्रकाश निकलते व पशु पक्षी को उसकी पूजा करते हुए देखा।

शिकारी ने इस अद्भुत घटना का जिक्र राजा से किया। राजा स्वयं शिकारी द्वारा बताई गई

जगह पर गए। उन्होंने भी वह दृश्य देखा इसके बाद उन्होंने मंत्रियों के साथ विचार विमर्श

किया और शिवलिंग को खुदवा कर राजभवन ले जाना चाहा। लेकिन लाख प्रयास के बाद

भी शिवलिंग को हिला नहीं पाए। बाद में राजा ने यहां मंदिर का निर्माण कराया तथा जगह

का नाम भगवान शिव के नाम पर महेशपुर रखा।

आज भी यह शिवलिंग धरती की सतह के 5 फीट नीचे है

जिसके ऊपर सखुआ व बरगद की लताएं लिपटी हुई है। इस मंदिर के

प्रति हिंदू व आदिवासी समाज की अपार श्रद्धा है। मंदिर की देखभाल सदियों से स्थानीय

मुंडा परिवारों करते चले आ रहे हैं। यहां आयोजित होने वाले मंडा पूजा सहित हर प्रकार के

धार्मिक अनुष्ठान मे लोग बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं। लेकिन इस बार कोरोना के लॉक

डाउन संबंधी प्रतिबंधों की वजह से इस मंदिर में भी मेला नहीं लगने जा रहा है। इससे

पहले ही देवघर के बाबाधाम मंदिर पर श्रावणी मेला पर रोक के बाद से ही यहतय हो चुका

है कि राज्य के अन्य मंदिरों को भी कोई छूट नहीं मिलने वाली है।

[subscribe2]

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धर्मMore posts in धर्म »
More from रांचीMore posts in रांची »

One Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: