fbpx Press "Enter" to skip to content

ब्रिटेन ने भारत में मदद की दूसरी खेप भी भेजी

कोलकाताः ब्रिटेन ने भारत को कोरोना संकट के दौरान मदद के तौर पर अपने राहत की

दूसरी खेप भी भेज दी है। इसके अलावा भी वहां से एक हजार और वेंटीलेटर यहां के

अस्पतालों के लिए शीघ्र ही भेजे जाएंगे। पिछले सप्ताह ब्रिटेन ने मदद की पहली खेप

दिल्ली भेजी थी। इस दौरान ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने भारतीय प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी के साथ एक ऑनलाइन बैठक भी की थी और हर संभव मदद का आश्वासन

दिया था। ब्रिटेने एब तक दो सौ वेंटीलेंटर, 495 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और तीन ऑक्सीजन

के प्लांट भारत को भेजे हैं। वहां के मुख्य चिकित्सा अधिकारी क्रिस विट्टी और मुख्य

वैज्ञानिक सलाहकार पैट्रिक वालांस भी अपने भारतीय समकक्ष अधिकारियों के संपर्क में हैं

और आवश्यक सलाह दे रहे हैं। वहां चीफ पीपल्स ऑफिसर प्रेरेणा इस्सार के नेतृत्व में

एनएचएस इंग्लैंड ने एक चिकित्सीय सलाहकार समूह का भी गठन किया है। यह टीम

भारत के कोविड 19 संकट में आवश्यक चिकित्सीय सलाह भी देगी। यह टीम भारतीय

संस्थाओं के साथ मिलकर काम करेगी। ब्रिटेन में ब्रिटिश एशियन ट्रस्ट ने भी भारत के

मदद की अपील की है। इस ट्रस्ट के साथ प्रिंस ऑफ वेल्स भी जुड़े हुए हैं, जिन्होंने अपने

स्तर पर 1.5 मिलियन पाउंड की मदद एकत्रित की है। वर्जिन अंटलांटिक ने खालसा एड के

साथ मिलकर दो सौ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भेजे हैं।

ब्रिटेन ने पिछले सप्ताह पहली खेप की मदद भेजी थी

कोलकाता के ब्रिटिश उच्चायोग की तरफ से जारी विज्ञप्ति में इस बात का भी उल्लेख

किया गया है भारत ने भी संकट के मौके पर पिछले वर्ष ब्रिटेन की मदद की थी और जरूरी

दवाई और पीपीई किट भेजे थे। ब्रिटेन के विदेश सचिव डोमोनिक रॉब ने कहा है कि यह

मदद भारत को फिलहाल अत्यंत जरूरी चीजों की पूर्ति में मददगार होगा और खास कर

ऑक्सीजन की कमी को दूर करने मे सहायक बनेगा। अभी पूरी दुनिया के एकजुट होने का

वक्त है क्योंकि जब तक हर कोई सुरक्षित नहीं होगा कोई भी सुरक्षित नहीं रहेगा।

कोलकाता के ब्रिटेश डिप्यूटी हाइकमिशनर निक लो ने कहा है कि एडमंड बुर्के ने कहा था

कि शैतान के जीतने का अनिवार्य शर्त यह होती है कि अच्छे लोग कुछ भी नहीं करें। मैं यह

देखकर प्रसन्न हूं कि यूके के लोग भारत की मदद के लिए लगातार आगे आ रहे हैं

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from कूटनीतिMore posts in कूटनीति »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from ब्रिटेनMore posts in ब्रिटेन »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: