fbpx Press "Enter" to skip to content

दो दिवसीय चतरा दौरे पर आये प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने फिर कई आरोप लगाये

  • हेमन्त सरकार में बिचौलियों का बोलबाला: दीपक प्रकाश

  • राज्य में महाठग बंधन की सरकार चल रही है

  • सरकार के लोग ट्रांसफर – पोस्टिंग में मस्त

  • राज्य की पूरी प्रशासनिक व्यवस्था ध्वस्त

राष्ट्रीय खबर

रांचीः दो दिवसीय दौरे पर चतरा आए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद

दीपक प्रकाश ने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि राज्य की कांग्रेस ,झामुमो और

राजद की महाठग बंधन सरकार की विफलता के कारण प्रदेश की स्थिति भयावह रूप ले

चुकी है। उग्रवादियों का तांडव, अपराधियों का बोलबाला, बहू बेटियों पर बढ़ते अत्याचार से

राज्य की सवा तीन करोड़ जनता भयभीत है। कहा कि प्रदेश में जंगल राज लौट आया है,

चतरा फिर से अशांत दिख रहा है। राज्य सरकार का नेतृत्व कमजोर है। नेतृत्व में

इच्छाशक्ति का घोर अभाव है।जिसका दुष्परिणाम जनता भुगतने को विवश है। प्रदेश में

आज प्रत्येक दिन 5 से ज्यादा महिलाओं के साथ दुष्कर्म और 5 लोगों की हत्या के वारदात

हो रहे है। एक वर्ष में 17 सौ से ज्यादा महिलाओं के साथ दुष्कर्म हुआ , जिसमें आदिवासी

और दलित समाज की महिलाओं व बेटियों के साथ सबसे ज्यादा मामले आए हैं।

उन्होंने हेमन्त सरकार को किसान विरोधी सरकार बताते हुए कहा कि पूर्वर्ती सरकार की

प्रमुख योजना मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना जिसके तहत 1 एकड़ पर 5 हजार और 5

एकड़ पर 25 हजार किसानों को दिया गया था जिसे हेमंत सरकार ने बंद कर दिया। राज्य

में यूरिया की कालाबाजारी हुई, किसान बिचौलियों को ग्यारह सौ रुपये प्रति क्विंटल धान

बेचने को मजबूर है। इन बिचौलियों की पहुंच सीधे सत्ता तक है। श्री प्रकाश ने कहा कि

सरकार विकास कार्य छोड़ ट्रांसफर पोस्टिंग करने में मदमस्त है। उन्होंने कहा कि यह

सरकार फंड का रोना रो रही है जबकि सत्य यह है कि केंद्र सरकार ने कोरोना के निदान

केलिये और डीएमएफटी के माध्यम से जो पैसे दिए उसका हिसाब तक राज्य सरकार नहीं

दे पाई है।

दो दिवसीय दौरे पर सरकार के गंभीर भ्रष्टाचार भी गिनाये

इसका बड़ा कारण है, कोरोना काल में कई भ्रष्टाचार, घपला और घोटाले हुए है। उन्होंने

हेमंत सरकार पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि यह सरकार परिवार के आधार

पर चलने वाली सरकार है। राज्य के अन्य विधायक और सांसद की मांग सुनने वाला कोई

नहीं। चतरा में बिजली की व्यवस्था बद से बदतर है। पूर्वर्ती रघुवर सरकार में बिजली ग्रिड

का निर्माण हुआ था जिसे शुरू कराने में अब तक यह सरकार अक्षम दिखी है। यदि बिजली

ग्रिड यथाशीघ्र शुरू नहीं किया गया तो भारतीय जनता पार्टी आंदोलन को मजबूर होगी।

आंदोलन की रणनीति भाजपा ने तय कर लिया है। साथ ही उन्होंने रघुवर सरकार में

एनएच 99 और एनएच 100 का टेंडर होने के बावजूद, इस सरकार में कार्य शुरू नहीं होने

पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि चतरा दौरे के दौरान पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ

सांगठनिक विस्तार और विचारधारा को और आगे बढ़ाने को लेकर चर्चा हुई। जनता की

आवाज पार्टी के कार्यकर्ता बने इस पर भी विचार विमर्श किया गया। मालूम हो कि प्रदेश

अध्यक्ष दीपक प्रकाश और प्रदेश महामंत्री आदित्य साहू चतरा के दौरे पर पहुंचे थे। जहां

पत्रकारों को संबोधित करते हुए उपरोक्त बातें कही। इस प्रेस वार्ता में, प्रदेश उपाध्यक्ष सह

चतरा सांसद सुनील कुमार सिंह,प्रदेश महामंत्री एवम प्रमंडल प्रभारी आदित्य साहू जिले के

प्रभारी बिपिन बिहारी सिंह, जिलाध्यक्ष अशोक शर्मा मौजूद थे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 0
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from चतराMore posts in चतरा »
More from बयानMore posts in बयान »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

One Comment

... ... ...
%d bloggers like this: