fbpx Press "Enter" to skip to content

बंगाल में गुंडों को राजनैतिक संरक्षण देना बंद करे दीदी: दीपक प्रकाश




  • भाजपा कार्यकर्ताओं व केंद्रीय मंत्री पर हुए हमले को बताया दुर्भाग्यजनक

रांचीः बंगाल में हो रहे हिंसा को लेकर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद

दीपक प्रकाश ने ममता बनर्जी को जिम्मेवार ठहराया है। उन्होंने कहा कि बंगाल में

प्रायोजित हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही। केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन के

काफिले पर हमले से स्पष्ट है कि, इन दंगाइयों को राजनैतिक संरक्षण प्राप्त है। दीदी

सबकुछ आंखें मूंद देख रही है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है। श्री प्रकाश ने कहा कि जिस प्रकार से

केंद्रीय मंत्री जी पर हमला हुआ है उससे बंगाल की स्थिति समझा जा सकता है। बंगाल

अंगारे पर जल रहा है इसे बुझाने के बजाए राजनैतिक पेट्रोल डाला जा रहा है। भारतीय

जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को टारगेट कर हमला किया जा रहा है। पार्टी कार्यकर्ताओं को

मौत के घाट उतार दिया जा रहा है। हजारों के खिलाफ हमले हुए हैं। सैकड़ो बहनों के साथ

दुष्कर्म व दुर्व्यवहार किया जाना मानवता व लोकतंत्र की हत्या है। इन घटनाओं पर दीदी

की चुप्पी दुर्भाग्यजनक है। उन्होंने कहा कि ममता दीदी गुंडों को संरक्षण देना बंद करें।

यह लोग एक दिन बंगाल को जला देंगे। बंगाल की संस्कृति में इस प्रकार से हो रहे हमले

एक दाग की तरह है। बंगाल की मां माटी मानुष इसे कभी माफ नहीं करेगी। उन्होंने कहा

कि तृणमूल कांग्रेस ऐसे गुंडों को पाल रखी है जो अपने विपक्ष में किसी को देखने को तैयार

नहीं है। उन्होंने कहा कि इससे भी दुर्भाग्य यह है कि विपक्ष में बैठे लोग भी लोकतंत्र की

हत्या को टुकटुकी लगा कर देख रहे हैं।

बंगाल में जेपी नड्डा मोर्चे पर

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पिछले दो दिनों से लगातार पश्चिम बंगाल के दौरे

पर हैं। बंगाल में हो रहे हिंसा के शिकार बने भाजपा कार्यकर्ताओं और उनके परिवार से वह

लगातार मिल रहे हैं। इसी वजह से आज भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक भी स्थगित हो

गयी है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बयानMore posts in बयान »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: