Press "Enter" to skip to content

भवानीपुर सीट पर भाजपा की तरफ से दिनेश त्रिवेदी को उतारने की कवायद

Spread the love



  • तृणमूल का प्रचार जारी, भाजपा अब फैसला लेगी
  • पहले तृणमूल से केंद्रीय मंत्री रहे हैं
  • पार्टी की सूची में छह अन्य नाम भी
  • प्रचार में ममता की गाड़ी बहुत आगे
राष्ट्रीय खबर

कोलकाता: भवानीपुर सीट से भाजपा के प्रत्याशी पूर्व सांसद दिनेश त्रिवेदी हो सकते हैं। श्री




त्रिवेदी ने हाल ही में तृणमूल कांग्रेस से त्यागपत्र देने के बाद भाजपा में शामिल होने का

एलान किया है। भाजपा खेमा से आ रही सूचनाओं के मुताबिक इस सीट पर भाजपा के

प्रत्याशी का फैसला दिल्ली में होना है लेकिन ऐसी संभावना है कि दिनेश त्रिवेदी ही भाजपा

की तरफ से भवानीपुर सीट पर चुनाव लड़ेंगे। इस सीट पर चुनाव आगामी 30 सितंबर को

होना है। भाजपा की ओर से जिन्हें मैदान में उतारा जा रहा है वह केंद्र में तृणमूल सांसद की

हैसियत से रेल मंत्री रह चुके हैं। चुनाव आयोग की ओर तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव

की तारीखों का एलान किया गया है। तृणमूल कांग्रेस की ओर से भवानीपुर विधानसभा सीट

से पार्टी ने सुश्री बनर्जी को बतौर प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतारा है। सूत्रों के अनुसार भाजपा

नेतृत्व इस सीट से सात नेताओं के नाम पर चर्चा कर रहा है। सुश्री बनर्जी के खिलाफ भाजपा

उम्मीदवार के बारे में पार्टी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि हमारे यहाँ उम्मीदवारों के

चयन की एक प्रक्रिया है और उसी प्रक्रिया के बाद प्रदेश से नाम चुने जाएंगे। कुछ नाम

प्रस्तावित किए जाते हैं और इन नामों में केंद्रीय नेतृत्व अंतिम फैसला लेता है। सूत्रों के

अनुसार भाजपा सुश्री बनर्जी के खिलाफ भवानीपुर से जिन सात नामों पर विचार कर रही है,

उनमें तृणमूल कांग्रेस से पूर्व राज्यसभा सांसद और पूर्व रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी का नाम सबसे

ऊपर है। इसके अलावा रुद्रनील घोष के नाम पर भी चर्चा चल रही है जिन्हें विधानसभा चुनाव




में इसी सीट से तृणमूल कांग्रेस के शोभनदेव चट्टोपाध्याय ने हराया था।

भवानीपुर सीट पर तृणमूल का प्रचार काफी आगे निकला

भाजपा की हुगली से सांसद और बांग्ला सिनेमा की अभिनेत्री लॉकेट चटर्जी के नाम पर भी

चर्चा चल रही है। वहीं मेघालय और त्रिपुरा के पूर्व राज्यपाल और पश्चिम बंगाल में पार्टी के

अध्यक्ष रहे वरिष्ठ नेता तथागत रॉय, बोलपुर विधानसभा सीट से उम्मीदवार रहे अनिर्बान

गांगुली, पूर्व राज्य सभा सदस्य और पत्रकार स्वपन दासगुप्ता और भाजपा के प्रदेश

उपाध्यक्ष प्रताप बनर्जी के नामों पर भी चर्चा जारी है। भाजपा के प्रदेश इकाई के नेताओं का

मानना है कि सुश्री बनर्जी के सामने श्री त्रिवेदी ज्यादा बेहतर विकल्प होंगे। दरअसल, इस

सीट पर दो लाख से ज्यादा मतदाता हैं, उनमें माना जाता है कि 50 हजार भाजपा के समर्थन

वाले हैं। इनमें बंगाली भाषी आबादी के साथ गुजराती, सिख, बिहारी, मारवाड़ी और दूसरे

समुदाय के लोग भी शामिल हैं। उम्मीदवारी के लिए श्री रॉय का नाम भी चर्चा में है। वर्ष

2014 के लोकसभा चुनाव में श्री रॉय भाजपा की ओर से कोलकाता दक्षिण से उम्मीदवार थे

और इसमें तृणमूल कांग्रेस के सुब्रत बख्शी से उन्हें पराजय मिली थी। हालांकि, उस चुनाव में

उन्हें भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र में अच्छी बढ़त मिली थी। उल्लेखनीय है कि 2011 और

2016 के विधानसभा चुनाव में सुश्री बनर्जी भवानीपुर सीट से ही जीती थीं। तृणमूल कांग्रेस

ने भवानीपुर से सुश्री बनर्जी, जांगीपुर से जाकिर हुसैन और शमशेरगंज से अमिरुल इस्लाम

को उतारा है।



More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पश्चिम बंगालMore posts in पश्चिम बंगाल »

Be First to Comment

Leave a Reply