fbpx Press "Enter" to skip to content

भाजपा विधायक दल के नेता ने सीएम को पत्र लिख कर , जताया आभार

रांची : भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने श्रमिक हित में छोटे उद्योगों के

बिजली का फिक्स्ड चार्ज में राहत देने की मांग की है। श्री मरांडी ने सीएम को पत्र लिख

कर टाटा मोटर्स खोलने की अनुमति देने के लिये आभार जताया है। उन्होंने कहा है कि

टाटा मोटर्स खुलने से एंसीलरी के 1100 छोटे उद्योग भी खुलेंगे। इन छोटे उद्योगों का

मार्च महीने का एक तिहाई और पूरे अप्रैल-मई महीने का अर्थात करीब ढाई महीने का

बिजली बिल बकाया है, जिसका भुगतान करने के बाद ही वे कारखाने का संचालन दोबारा

शुरू हो सकेगा। कोरोना आपदा की वजह से मानवीय मूल्यों का हवाला देकर या कानूनी

प्रावधानों का भय दिखाकर इन छोटे उद्योगों से मजदूरों के पूरे पारिश्रमिक का भुगतान

भी करा दिया गया है। हालांकि, केंद्र सरकार ने बैंक ऋण की किश्तें अदा करने में थोड़ी

राहत दी है। राज्य सरकार को छोटे उद्योगों का करीब ढाई माह का बिजली बिल माफ कर

देना चाहिये। इससे छोटे उद्योग-व्यापार चलाने वालों को संजीवनी मिल सकेगा। देश के

अधिकांश राज्यों में फिक्स्ड चार्ज से उद्योग-व्यापार को मुक्ति दे दी गयी है। लेकिन

झारखण्ड में अब तक ऐसा नहीं किया गया है। इसके कारण छोटे उद्योग.-व्यापार के सभी

संघ त्राहिमाम कर रहे हैं। भाजपा नेता ने कहा है कि राज्य सरकार ने करीब 10 लाख

प्रवासियों को रोजगार उपलब्ध कराने का वादा किया है। छोटे उद्योगों को फिर से चालू

करने के लिये बिजली के फिक्स्ड चार्ज से अवश्यक मुक्ति दे देनी चाहिये। कोरोना आपदा

की वजह से औद्योगिक-व्यापारिक इकाईयों की कमर टूटी हुई है। इन्हें बिजली के फिक्स्ड

चार्ज से मुक्ति नहीं मिली तो इनके लिए यह ताबूत में आखिरी कील साबित होगी। इसके

साथ ही, लाखों श्रमिकों के रोजगार का सबसे उपयुक्त और सुलभ मार्ग भी बंद हो जायेगा।

 


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!