fbpx Press "Enter" to skip to content

पांच दिन बाद भी असम के सीएम के पेंच नहीं सुलझा

  • भाजपा केंद्रीय नेतृत्व का अब तक फैसला नहीं

  • साफ है कि पार्टी के अंदर आतंरिक संघर्ष तेज हुआ

  • जेपी नड्डा, अमित शाह और तोमर के साथ बैठक

भूपेन गोस्वामी

रांची : पांच दिन बाद भी असम के मुख्यमंत्री का मसला नहीं सुलझ पाया है। इससे स्पष्ट

है कि भाजपा नेतृत्व इस बारे में कोई फैसला कर पाने की स्थिति में नहीं है। इसका दूसरा

अर्थ यह भी है कि असम प्रदेश भाजपा का आंतरिक संघर्ष शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री पद

को लेकर सर्बानंद सोनोवाल और हेमंत विश्व शर्मा का झगड़ा शुरू हो गया है। असम

विधानसभा चुनाव के नतीजों का एलान हुए पांच दिन हो गए हैं, लेकिन अभी तक राज्य

का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इस पर फैसला नहीं हो सका है। दरअसल, इस

विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने न तो मुख्यमंत्री उम्मीदवार के रूप में सर्वानंद सोनोवाल

के नाम का एलान किया था और न ही हेमंत बिस्व सरमा के नाम का। अन्य जिन राज्यों

में चुनाव हुए थे, वहां पर मुख्यमंत्रियों ने शपथ ले ली है, लेकिन असम को पांच दिन बाद

भी अगले मुख्यमंत्री का अब भी इंतजार है। असम विधानसभा चुनाव में सत्ताधारी

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने जबरदस्त जीत के साथ सत्ता में वापसी कर ली। बीजेपी

की जीत के अब असम में नेतृत्व को लेकर सस्पेंस जारी है। मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल

के नेतृत्व में बीजेपी को जीत मिली तो वहीं हिमंत बिस्व सरमा भी सीएम पद की रेस में

हैं। दिल्ली स्थित बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर असम में मुख्यमंत्री पद को

लेकर जारी बैठक खत्म हो गई है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि असम के अगले मुख्यमंत्री

पद की दौड़ में हिमंत बिस्व सरमा का नाम सबसे आगे चल रहा है।

पांच दिन से हिमंत बिस्वा सरमा का पलड़ा भारी दिख रहा है

इससे पहले असम को लेकर बीजेपी का केंद्रीय नेतृत्व अब एक्टिव मोड में आ गया है।

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सीएम सोनोवाल और हिमंत बिस्व सरमा, दोनों को ही आज

शनिवार को दिल्ली बुलाया। गुवाहाटी से चार्टर्ड प्लेन से दोनों नेता आज दिल्ली पहुंचे। 

सबसे पहले हिमंत बिस्व सरमा और बीएल संतोष बैठक के लिए बीजेपी अध्यक्ष जेपी

नड्डा के आवास पहुंचे। दिल्ली में जेपी नड्डा के आवास पर गृह मंत्री अमित शाह की

मौजूदगी में बैठक के बाद हिमंत बिस्व सरमा निकल गए। नड्डा के आवास से हिमंत

बिस्व सरमा के निकल निकल जाने के बाद मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल पहुंचे। नड्डा के

घर सीएम सोनोवाल के साथ बैठक जारी थी कि फिर से हिमंत बिस्व सरमा पहुंच गए हैं।

गौरतलब है कि दोनों नेताओं को बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने अगली सरकार के मुद्दे पर

दिल्ली बुलाया। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और स्वास्थ्य मंत्री डॉ हिमांता

बिस्वा सरमा ने आज सुबह 7:15 बजे चार्टर्ड फ्लाइट से नई दिल्ली के लिए उड़ान भरी थी।

दोनों नेता ने सुबह साढ़े 10 बजे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री

अमित शाह और अन्य वरिष्ठ नेतृत्व से मुलाकात की , जिसमें इस बात पर चर्चा की गई

थी कि असम के अगले सीएम के रूप में कौन शपथ लेगा । सूत्रों का कहना है कि हेमंत

विश्व शर्मा के पास 45 से अधिक विधायक हैं इसलिए उनका अगला मुख्यमंत्री बनाया

जाएगा लेकिन भाजपा नेतृत्व अभी इस बारे में मुंह नहीं खोल पा रहा है।

फिर से पर्यवेक्षक भेजने की जरूरत पड़ी भाजपा को

पांच दिन से जारी कवायद के बाद भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय पर्यवेक्षक कल

गुवाहाटी जाएंगे और सभी विधायकों से बात कर उन्हें अगले मुख्यमंत्री के बारे में

जानकारी देंगे। सूत्रों का कहना है कि पूरे पूर्वोत्तर राज्य में हेमंत विश्व शर्मा के अलावा

कोई भी सामना नहीं कर पाएगा, इसलिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने हेमंत विश्व शर्मा

को अगला मुख्यमंत्री बनाने पर चर्चा की है। दोनों को आज दिल्ली बुलाया गया और

गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र

सिंह तोमर ,बीजेपी महासचिव बीएल संतोष के साथ अलग-अलग बैठकें कीं। इसके बाद

दोनों ने साथ बैठकर की लेकिन कोई सुझाव नहीं मिला। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)

प्रमुख जेपी नड्डा के साथ दिल्ली में एक महत्वपूर्ण बैठक के बाद असम के अगले

मुख्यमंत्री कौन होंगे भाजपा के वरिष्ठ नेता हिमांता बिस्वा सरमा शनिवार को कहा कि

इस संबंध में कल गुवाहाटी में एक विधायक दल की बैठक हो सकती है। दोनों ने बैठक के

बाद शनिवार को पार्टी प्रमुख के घर से रवाना हो गए। भारतीय जनता पार्टी विधायक दल

की बैठक कल गुवाहाटी में होगी। हिमांता बिश्वा सरमा ने मीडियाकर्मियों से कहा, सभी

सवालों के जवाब उस बैठक से बाहर आ जाएंगे ।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from असमMore posts in असम »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: