fbpx Press "Enter" to skip to content

लॉकडाउन में गायब थे अब बयान देते फिर रहें है भाजपा के नेता: कांग्रेस

  • लॉकडाउन जीएसटी का बकाया दिया नहीं डीवीसी के नाम पर काट लिया
  •  जिसे शरम नियोजन कह रहे हैं, उसका किसने बिगाड़ा
  •  किसान आंदोलन के संकट की जिम्मेदारी ले भाजपा

रांची: लॉकडाउन में चिट्ठी-चिट्ठी का खेल खेलकर जनआकांक्षाओं का मजाक उड़ाने वाले

भाजपा नेता अब रोज-रोज प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी जिम्मेवारियों से पल्ला झाड़ने का काम

कर रहे है।झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ

शाहदेव और डा राजेश गुप्ता छोटू ने कहा है कि एक ओर भाजपा की केंद्र सरकार

संकटकाल में भी जीएसटी क्षतिपूर्ति की राशि समय पर देने में आनाकानी कर रही है, वहीं

डीवीसी के बकाया भुगतान के नाम पर झारखंड सरकार के खाते से अब तक 2100 करोड़

रुपये निकाल लिये गये है, जिससे झारखंड का विकास प्रभावित हुआ है,लॉकडाउन में

 ग्रामीण क्षेत्रों लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के कार्य में भी बाधा उत्पन्न हुई है।

पार्टी के प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि भाजपा विधायक समरीलाल

जिस श्रम नियोजन विभाग को आज शरम नियोजन की संज्ञा दे रहे है, उसका यह हाल

पूर्ववर्ती रघुवर दास शासनकाल में ही हुआ है। पिछली सरकार में जिस तरह से रोजगार

देने के नाम पर युवाओं के साथ छलावा किया गया, नियुक्ति घोटाला हुआ, मेधा घोटाला

हुआ, चार-पांच हजार रुपये के मानदेय में झारखंड के बच्चे को बंगलुरू ,मुंबई, हैदराबाद

और दिल्ली काम करने के लिए भेजा गया, उसकी सच्चाई सभी लोग जानते है। राज्य

सरकार व्यवस्था के सुधार में जुटी है, गठबंधन सरकार के शासनकाल में ही श्रम नियोजन

विभाग की ओर से लाखों प्रवासी श्रमिकों को सुरक्षित घर वापस लाया गया और गरीब

मजदूरों को हवाई जहाज से वापस लाने का काम किया।

लॉकडाउन में लाखों श्रमिकों को सुरक्षित घर वापस लाया गया

प्रदेश प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि भाजपा विधायक समरीलाल आज

जिस ओरिएंटल क्राफ्ट की बात कर रहे है, उसकी सच्चाई यह है कि कौड़ी के मोल में

पिछली सरकार ने अरबों रुपये की जमीन को पूंजीपतियों के हवाले कर दिया गया और

जमीन लेने के बाद कंपनी ने अपना काम ही बंद कर दिया है। राज्य सरकार से पार्टी यह

मांग करती है कि कंपनी काम शुरू करें या उससे जमीन वापस लेने की प्रक्रिया शुरू की

जाए। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि भाजपा विधायक समरीलाल

पेट की भूख के दिमाग में चढ़ने की बात कर रहे है, जबकि आज पूरे देश के लोग रहे है कि

देश का अन्नदाता किसान सड़कों पर है और केंद्र सरकार अपने पूंजीपति मित्रों के हितों के

लिए अड़ियल रवैया अख्तियार किये है।ऐसी स्थिति में देश में संकट की स्थिति गहराती है

तो सीधे तौर पर इसके लिए भाजपा जिम्मेवार होगी।

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from रांचीMore posts in रांची »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

One Comment

... ... ...
%d bloggers like this: