Press "Enter" to skip to content

बिहपुर से वीरपुर तक के पुल के उदघाटन समारोह में शामिल शाहनवाज हुसैन

  • हवाई अड्डा निर्माण का काम भी शीघ्र

  • सड़क परिवहन पर केंद्र ने पूरी मदद की

  • पार्टी से जुड़े सवालों को टाल गया हुसैन

दीपक नौरंगी

भागलपुरः बिहपुर से वीरपुर यानी बिहार से नेपाल तक को जोड़ने की कवायद का काम

आज प्रारंभ हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी पुल का ऑनलाइन शिलान्यास करेंगे।

प्रधानमंत्री आज बिहार के लिए कुल 14 हजार करोड़ से अधिक की परियोजनाओं का

शुभारंभ करने जा रहे हैं। इसी पुल के उदघाटन के सिलसिले में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता

शाहनवाज हुसैन भागलपुर आये हैं। जहां उनके कई विषयों पर गंभीर चर्चा हुई

वीडियो में देखिये उनसे क्या बात चीत हुई

श्री हुसैन ने इस पुल के बारे में कहा कि उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री भागलपुर जिला के

लोगों को अभी डबल सौगात दे रहे हैं। भागलपुर में फोरलेन पुल का निर्माण गंगा नदी में

होगा। दूसरा अटल बिहारी वाजपेयी के समय से जो प्रयास चल रहा था उसे पूरा किया जा

रहा है। बिहपुर से वीरपुर पुल का भी शिलान्यास प्रधानमंत्री करेंगे। यह पुल नौ किलोमीटर

लंबा होगा। जिसे मिसिंग लेन में डाल दिया गया था। उनके मुताबिक इनके बन जाने से

सड़क परिवहन और बेहतर होगा। बिहार में सड़क परिवहन की दशा सुधारने की दिशा में

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रयासों को केंद्र की भाजपा सरकार का लगातार समर्थन प्राप्त

होता रहा है। श्री हुसैन ने हवाई अड्डा निर्माण पर भी पूछे गये सवालों का धैर्यपूर्वक उत्तर

दिया। उन्होंने कहा कि बिहपुर से वीरपुर के पुल की तरह अब दरभंगा की तर्ज पर

भागलपुर में भी हवाई अड्डे का निर्माण होगा। इसके लिए अलग से जमीन की खरीद

होगी। इसके साथ ही नया रनवे का निर्माण भी होगा। हवाई अड्डे के निर्माण के लिए

उन्होंने प्रधानमंत्री से बात की है। प्रधानमंत्री ने भरोसा दिलाया है कि भागलपुर में हवाई

अड्डे का निर्माण होगा। इसके लिए लगभग सारी तैयारी पूरी कर ली गई है।

बिहपुर से वीरपुर के अलावा भागलपुर हवाई अड्डा भी याद है

उन्होंने कहा कि भागलपुर ग्रीन फील्ड में हवाई अड्डे के निर्माण को लेकर पूरी ताकत लगा

देंगे। भागलपुर में छोटे विमान से अब काम चलने वाला नहीं है। यहां से बड़े विमान को

उड़ाने की आवश्यकता है। पटना, दरभंगा और गया के बाद अब भागलपुर से ही जल्द

हवाई जहाज उड़ान भरेगा। उन्होंने कहा कि पटना के बाद भागलपुर से ही हवाई जहाज को

उड़ान भरना था, लेकिन कुछ लोगों के व्यवधान के कारण हवाई जहाज नहीं उड़ सका। अब

लेकिन बहुत जल्द इस दिशा में पहल की जाएगी।

भाजपा से ही मेरी छवि बनी है तो पार्टी का वफादार रहूंगा

राजनीतिक मुद्दों पर पूछे गये सवालों में से अधिकांश को श्री हुसैन टाल गये क्योंकि यह

पार्टी में अभी उनकी कमजोर स्थिति और टिकट वितरण में निशिकांत दुबे और अश्विनी

चौबे से संबंधित थे। भागलपुर के लोग अच्छी तरह जानते हैं कि यहां से चुनाव जीतने और

फिर पराजित होने के बाद भी उनका इलाके से निरंतर संपर्क बना रहा। इस कोरोना काल

में भी पर्दे के पीछे से श्री हुसैन ने भागलपुर और बिहार के अलावा हरियाणा सहित कई

राज्यों में गरीबों की उल्लेखनीय सेवा की है। लेकिन पार्टी में अपनी वर्तमान स्थिति पर

वह कुछ भी बोलने से बचते हैं। इन सभी मुद्दों पर उनसे यह भी पूछा गया था कि क्या ऐसा

नहीं लगता कि अटल बिहारी बाजपेयी के कार्यकाल के बाद श्री मोदी के कार्यकाल में

उनका कद लगातार छोटा हो रहा है और टिकट वितरण में भी उनकी नहीं सुनी जा रही है।

इन सवालों को टालते हुए श्री हुसैन ने साफ साफ कहा कि वह पार्टी के सिपाही हैं। उनकी

अपनी पहचान भी पार्टी की वजह से ही हैं। इसलिए पार्टी कोई जिम्मेदारी दे अथवा नहीं दे

वह पार्टी के सिपाही तो बने ही रहेंगे।

[subscribe2]

Spread the love
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from भागलपुरMore posts in भागलपुर »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

6 Comments

... ... ...
Exit mobile version