fbpx Press "Enter" to skip to content

बयान देकर परेशानी मोल ली बिहार पुलिस एसोसियेशन के अध्यक्ष ने

  • मीडिया में बयानबाजी से पुलिस मुख्यालय नाराज

  • कारण बताओ नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा

  • कोरोना पीड़ित हैं तो बैठक कैसे आयोजित की

दीपक नौरंगी

पटनाः बयान देकर बिहार पुलिस एसोसियेशन के प्रांतीय अध्यक्ष मृत्युंजय कुमार सिंह ने

परेशानी मोल ली है। दरअसल उन्होंने किसी मुद्दे पर डीजीपी से संपर्क नहीं होने की वजह

से सीधे मीडिया में यह बयान दे दिया था कि डीजीपी तो फोन ही नहीं उठाते हैं। इसी बात

पर पुलिस मुख्यालय गरम हो गया है। पूरे घटनाक्रम का हवाला देते हुए उनसे अगले पंद्रह

दिनों के अंदर स्पष्टीकरण मांगा गया है। बिहार पुलिस एसोसियेशन के अध्यक्ष के बयान

को कई समाचार पत्रों और बेव पोर्टलों में उल्लेखित किया गया है। इसके बाद ही पुलिस

मुख्यालय ने इस किस्म के आचरण और खास कर मीडिया में इस तरीके से बयान देने को

पुलिस सेवा के प्रतिकूल माना है। चूंकि मृत्युंजय कुमार सिंह अपराध अनुसंधान विभाग में

पदस्थापित हैं, इसलिए अपराध अनुसंधान विभाग के एसपी की तरफ से यह कारण

बताओ नोटिस जारी किया गया है। विभाग ने यह स्पष्ट कर दिया है कि बिहार पुलिस

एसोसियेशन के अध्यक्ष का यह बयान सरकारी सेवा नियमावलि एवं सामान्य पुलिस

विभाग के कार्यपद्धति के प्रावधानों के खिलाफ है। बिहार पुलिस मुख्यालय के अपराध

अनुसंधान विभाग से जारी इस कारण बताओ नोटिस में स्पष्ट कर दिया गया है कि बिहार

पुलिस के डीजीपी के पास ढेरों जिम्मेदारियां होती हैं। वह हमेशा फोन उठाने के लिए

उपलब्ध भी नहीं हो सकते क्योंकि कई बार अत्यावश्यक बैठकों में भी उन्हें भाग लेना

पड़ता है। पत्र में कहा गया है कि डीजीपी के उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में विभागीय

नियम के तहत डीजीपी के कोषांग से संपर्क कर उनसे बात करने का संदेश दिया जाना

चाहिए था।

बयान को पुलिस सेवा के नियमों के खिलाफ माना गया

पुलिस महानिदेशक से वार्ता के लिए पहले से समय निर्धारत कर भी यह काम किया जा

सकता था। ऐसा कुछ भी नहीं करने के साथ साथ मीडिया में बयान देना यह स्पष्ट करता

है कि आपका मकसद पुलिस अधिकारियों की समस्या पर बात करना नहीं बल्कि मीडिया

में बयान देकर वरीय अधिकारियों पर नाजायज दबाव बनाना था। इस कारण बताओ

नोटिस में यह सवाल भी पूछा गया है कि अगर आप खुद को कोरोना पीड़ित बता रहे हैं तो

आपके द्वारा संघ की बैठक कैसे और कहां आयोजित की गयी थी। अगले पंद्रह दिनों में

उन्हें इस कारण बताओ नोटिस का उत्तर देने का निर्देश दिया गया है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पटनाMore posts in पटना »
More from बयानMore posts in बयान »
More from राज काजMore posts in राज काज »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: