fbpx Press "Enter" to skip to content

बिहार निवासी तेल कर्मचारी राम कुमार को भी उल्फा (आई) ने रिहा किया

  • उत्तर पूर्व संवाददाता

गुवाहाटी: बिहार निवासी राम कुमार को भी उल्फा आई ने रिहा कर दिया है। उल्फा (आई)

ने राम कुमार को लगभग 4 महीने तक अपनी कैद में रखने के बाद रिहा कर दिया

क्विपो कर्मचारी राम कुमार को उल्फा (आई) ने नगालैंड में भारत-म्यांमार सीमा के पास

एक अज्ञात स्थान पर छोड़ा था। खबरों के अनुसार, राम कुमार इस समय असम राइफल्स

की सुरक्षित हिरासत में हैं । क्विपो ऑयल एंड गैस इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड के दो

कर्मचारियों-बिहार निवासी रेडियो ऑपरेटर राम कुमार (39) और असम के शिवसागर  के 

ड्रिलिंग अधीक्षक प्रणव कुमार गोगोई (51) का अपहरण कर लिया गया था, जबकि वे 21

दिसंबर को अरुणाचल प्रदेश के चांगलांग जिले में कुमचिका ड्रिलिंग साइट पर काम कर

रहे थे । इससे पहले, 3 अप्रैल को उल्फा (आई) ने ड्रिलिंग सुपरिंटेंडेंट प्रणव कुमार गोगोई

को रिलीव किया था। प्रणब कुमार गोगोई उसी दिन असम के शिवसागर स्थित अपने घर

पहुंचे थे। इससे पूर्व इन दोनों की रिहाई के लिए उल्फा ने दो शर्त रखी थी, उसका पालन

नहीं किया गया था। अपहरण के बाद दोनों ने ही अपने अपने राज्य के मुख्यमंत्री से भी

मदद की गुहार लगायी थी। 

बिहारी निवासी राम कुमार अभी असम राइफल्स के पास

उल्फा (आई) द्वारा रिहा किये गये राम कुमार ने भी इतनों दिनों तक उनकी पकड़ में रहने

के बाद अब तक कोई खास जानकारी नहीं दी है। पुलिस के मुताबिक इस अवस्था से

गुजरने वाले पर मानसिक दबाव बहुत अधिक रहता है। इसलिए सामान्य स्थिति में

लौटने तक उनसे कोई विशेष पूछ ताछ भी जरूरी नहीं है। बिहार निवासी राम कुमार को

भी सकुशल बरामद किये जाने के बाद फिलहाल इस मामले को लेकर शांति है। लेकिन

खबर है कि तेल कंपनी का काम अब भी वहां नहीं चल पा रहा है। वहां बिहार निवासी राम

कुमार और असम निवासी प्रणव कुमार गोगोई के अपहरण के बाद से ही तेल उत्खनन का

काम बंद है। जानकार मानते हैं कि अगर कंपनी अपना कारोबार फिर से प्रारंभ करती है तो

यह माना जाना चाहिए कि उग्रवादियों के साथ कंपनी की गुप्त वार्ता हुई है और दोनों की

सकुशल रिहाई उसी बात चीत का परिणाम है। 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अरुणाचल प्रदेशMore posts in अरुणाचल प्रदेश »
More from आतंकवादMore posts in आतंकवाद »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »

One Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: