fbpx Press "Enter" to skip to content

बकरीद के मौके पर बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की गंभीर अपील

पटनाः बकरीद के मौके पर हर किस्म से शांति और सद्भाव बहाल रखने के लिए बिहार के

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने गंभीर अपील की है। उन्होंने बकरीद के त्याग के बारे में

विस्तार से जानकारी देते हुए इसके मर्म को समझने की बात कही।

वीडियो में देखिये डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने क्या कहा

बिल्कुल इस पर्व के जुड़ी धार्मिक मान्यताओं और घटनाक्रमों का उल्लेख करते हुए त्याग

के इस सर्वोच्च आस्था के बारे में न सिर्फ चर्चा की बल्कि उसकी गहराई को समझने की

भी अपील की। उन्होंने अपनी तरफ से हर स्तर पर शांति और सदभाव बहाल रखने की

इस अपील के साथ साथ कहा कि इस मौके पर बिहार पुलिस हर स्तर पर सतर्क और

सक्रिय रहेगी। श्री पांडेय ने इसी क्रम में कोरोना के संकट का भी विस्तार से उल्लेख किया।

उन्होंने कहा कि इस वैश्विक संकट की वजह से पहले भी कई बड़े धार्मिक त्योहारों पर लोग

एक साथ नहीं हो पाये हैं क्योंकि यह समय की वैश्विक मांग है। अगर कोरोना को परास्त

करना है तो हमें इन नियमों का भी कड़ाई से पालन करना होगा। इसलिए बकरीद के मौके

पर भी लोग भीड़ कतई ना लगाये और ईद की तरह इस पर्व में भी अपने अपने घरों पर ही

नमाज पढ़े।

बकरीद के पहले सावन में भी लोग नहीं निकले

उन्होंने कहा कि जिस सावन के महीने में करोड़ों लोग भगवान शंकर को जल चढ़ाने

निकलते थे, वे भी इस बार कोरोना की वजह से नहीं निकल पाये। विश्व प्रसिद्ध अमरनाथ

की यात्रा को भी रद्द करना पड़ा है। इसलिए बकरीद के मौके पर भी कोरोना से बचाव के

प्रावधानों का पूरी जिम्मेदारी के साथ सभी को पालन करना चाहिए। इसी क्रम में बकरीद

की अपील के साथ साथ उन्होंने इशारों ही इशारों कहा कि कुर्बानी के इस त्योहार में लोगों

को इस बात का भी पूरा ध्यान रखना चाहिए कि नियम और कानून का कतई उल्लंघन

नहीं हो। किसी ऐसे पशु की भी कुर्बानी नहीं दी जाए, जो यहां के कानून के मुताबिक

अपराध है, इसे हरेक को ध्यान रखना होगा।


 

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धर्मMore posts in धर्म »
More from बयानMore posts in बयान »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!