fbpx Press "Enter" to skip to content

बिहार के मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह को भी लील गया कोरोना

  • 15 अप्रैल को बीमार होने के बाद अस्पताल में थे

  • मुख्मंत्री नीतीश कुमार और अन्य ने जताया शोक

  • कैबिनेट की बैठक के बीच आयी उनके निधन की सूचना

पटनाः बिहार के मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह भी कोरोना की भेंट चढ़ गये। बिहार में

कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है। इसका जीता जागता नमूना

राज्य के सबसे बड़े अधिकारी की मौत से हो गया है। बिहार के मुख्य सचिव अरुण कुमार

सिंह का निधन हो गया है।

वीडियो में जान लें इसकी रिपोर्ट

वे कोरोना से संक्रमित थे और अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। उनके निधन पर

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शोक जताया है। इससे पहले स्वास्थ्य विभाग में अतिरिक्त

सचिव रवि शंकर चौधरी का भी कोरोना से निधन हो गया था। 1985 बैच के आईएएस

अधिकारी रहे अरुण कुमार सिंह मुख्य सचिव से पहले बिहार के विकास आयुक्त का

पदभार संभाल रहे थे। उन्हें इसी साल मुख्य सचिव बनाया गया था। जानकारी के

अनुसार, 15 अप्रैल को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उन्हें इलाज के

लिए पटना के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहीं शुक्रवार को उन्होंने अंतिम

सांस ली।

कैबिनेट बैठक के दौरान जब मुख्य सचिव अरूण के निधन की खबर मिली तो मुख्यमंत्री

नीतीश कुमार सहित सभी कैबिनेट सहयोगियों ने शोक व्यक्त किया। कोरोना की वजह से

बिहार के कई अधिकारियों की मौत हो चुकी है। लगभग एक हफ्ते पहले ही स्वास्थ्य

विभाग के अतिरिक्त सचिव रवि शंकर चौधरी का निधन हो गया था।

इससे पहले बिहार के दो आईएएस अधिकारियों की भी कोरोना से मौत हो चुकी है।

मंगलवार को 59 साल के आईएएस विजय रंजन का कोरोना की वजह से निधन हो गया

था। उन्हें चार दिन पहले पटना एम्स में भर्ती कराया गया था। वह पंचायती राज विभाग में

निदेशक के पद पर कार्यरत थे। इसके अलावा वैशाली के जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ.

ललन कुमार राय (62) का भी कोरोना की वजह से निधन हो गया था।

बिहार के मुख्य सचिव का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ

आईएएस अधिकारी का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। स्पीकर

विजय कुमार सिन्हा, विधान परिषद अध्यक्ष अवधेश नारायण सिंह, डिप्टी सीएम

तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी सहित कई अन्य मंत्रियों, अधिकारियों और नेताओं ने

मुख्य सचिव की मौत पर शोक व्यक्त किया है।

मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने बिहार के मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह की कोरोना

संक्रमण से हुई मौत पर शोक और गहरी संवेदना व्यक्त की। मुख्य सचिव के असामयिक

निधन की सूचना मुख्यमंत्री को कैबिनेट की बैठक के समापन के समय मिली। कैबिनेट

की बैठक में मुख्य सचिव के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए एक मिनट का मौन रखा

गया। उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा कि अरुण कुमार सिंह वर्ष 1985 बैच के बिहार कैडर

के आईएएस अधिकारी थे। वे भारतीय प्रशासनिक सेवा के एक कुशल प्रशासक थे। वे एक

मिलनसार व्यक्ति थे। विभिन्न पदों पर रहते हुए उन्होंने अपनी भूमिका का बेहतर

निर्वहन किया था। उनके निधन से प्रशासनिक क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुई है। मुख्यमंत्री ने

दिवंगत आत्मा की चिर शान्ति तथा उनके परिजनों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य धारण

करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है। 28 फरवरी को दीपक कुमार के

मुख्य सचिव पद से रिटायर होने के बाद अरूण कुमार सिंह बिहार के नए मुख्य सचिव बने

थे। उनको खुद मुख्यमंत्री की पसंद माना जा रहा था और वह भाजपा के विरोध के बाद भी

मुख्य सचिव बनाए गए थे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

One Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: