भागलपुर एसएसपी ने कई वीआइपी की गाड़ियों की चेकिंग खुद की

भागलपुर एसपी ने कई वीआइपी की गाड़ियों की चेकिंग खुद की
Spread the love
  • 47
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    47
    Shares
  • गाड़ी पर बैठे रहे सूरजभान
  • बॉडीगार्ड में डिक्की खोल जांच कराई

दीपक नारंगी
भागलपुर : भागलपुर एसएसपी आशीष भारती के नेतृत्व में रविवार देर रात स्टेशन चौक पर पुलिस ने रोको-टोको अभियान चलाया।

चेकिंग के दौरान एसएसपी ने पूर्व सांसद सुरजभान सिंह, विधायक नीरज कुमार बबलू समेत सत्तर से अधिक गाड़ियों की जांच की गई

गाड़ी में पूर्व सांसद सूरजभान खुद बैठे थे।

उनके साथ सरकारी बॉडीगार्ड भी था।

बॉडीगार्ड ने एसएसपी को बताया कि पूर्व सांसद सूरजभान की गाड़ी है और वे गाड़ी में बैठे हैं।

फिर भी एसएसपी ने गाड़ी की डिक्की खोलवा कर जांच की गई है।

सूरजभान की गाड़ी के साथ उनकी एक अन्य गाड़ी भी थी।

सूरजभान गाड़ी में ही बैठे रहे और पुलिस गाड़ी की जांच करती रहे।

जांच के दौरान कुछ नहीं मिला एसएसपी ने जांच की।

इसके अलावे सुपौल की विधायक नीरज कुमार बबलू की देवघर नंबर की गाड़ी की भी पुलिस ने जांच की।

हालांकि इसमें विधायक नहीं थे।

वाहन चेकिंग कर ऑन द स्पॉट फाइन भी किया गया।

भागलपुर के हर इलाके में चेकिंग को लेकर अलग.अलग टीम बनाई गई थी।

सिटी डीएसपी राजवंश सिंह के नेतृत्व में एक टीम मोजाहिदपुर इलाके में चेकिंग कर रही थी।

वहीं कोतवाली इंस्पेक्टर केदारनाथ सिंह, जोगसर थानेदार विश्व बंधु कुमार और बरारी थानेदार सुनील कुमार झा खलीफाबाग चौक पर हर छोटी बड़ी गाड़ियों की चेकिंग कर रहे थे।

दक्षिणी इलाके में शीतला स्थान चौक पर मोजाहिदपुर थानेदार राम एकबाल प्रसाद यादव, इशाकचक थानेदार संजय कुमार सुधांशु वाहनों की चेकिंग कर रहे थे।

चेकिंग अभियान देर रात तक चला।

एसएसपी आशीष भारती ने बताया कि लोकसभा चुनाव को लेकर आचार संहिता लग गई है।

लेकिन सीनियर एसपी ने बताया कि हर दिन पुलिस का चेकिंग अभियान जारी रहेगा।

चेकिंग के दौरान शराब हथियार की भी जांच की गई।

स्टेशन चौक पर तातारपुर थानेदार एसपी सिंह और विवि थानेदार ओम प्रकाश ने एक कार से शराब के नशे में तीन लड़कों को गिरफ्तार किया है।

तीनों कहीं से पार्टी करके लौट रहे थे।

चेकिंग देख कार का ड्राइवर गाड़ी को बैक कर भागने लगा।

तभी पुलिस ने खदेड़ कर कार को पकड़ लिया।

ब्रेथ एनालाइजर से तीनों की जांच की गई तो तीनों के शराब पीने की पुष्टि हुई।

स्टेशन चौक पर चेकिंग के दौरान पुलिस ने बाइक सवार एक युवक को पकड़ा।

वह बिना हेलमेट के था। विवि थानेदार ओम प्रकाश ने जब उससे फाइन मांगा

तो उसने कहा कि वह डीटीओ ऑफिस का स्टाफ है और उसका नाम सूरज है।

पुलिस पर धौंस जमाते देख एसएसपी वहां पहुंच गए और सूरज कुमार से कहा कि आपको भी फाइन देना पड़ेगा।

आखिरकार सूरज कुमार से भी पुलिस ने फाइन वसूला।

हालांकि बाद में पता चला कि वह डीटीओ ऑफिस का स्टाफ नहीं है और उसने पुलिस पर धौंस जमाने के लिए अपना झूठा परिचय दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.