नरेंद्र मोदी के जन्मदिन का श्रेष्ठ तोहफा झारखंड में

नरेंद्र मोदी के जन्मदिन का श्रेष्ठ तोहफा झारखंड में
Spread the love

नरेंद्र मोदी का जन्मदिन यूं तो पूरे देश में मनाया गया।



लेकिन इन तमाम आयोजनों में बाजी मार गये झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास।

उन्होंने रांची के बांधगाड़ी में आयोजित समारोह में राज्य से सफाईकर्मियों को अनोखा तोहफा दिया है।

आम तौर पर किसी भी सरकार को समाज में एक अत्यंत महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाने वाले

सफाई कर्मचारियों की तरफ ध्यान देने की परंपरा नहीं रही है।

सिर्फ जब सफाई कर्मचारी हड़ताल पर चले जाते हैं तो राज्य को एक ही झटके में

समझ में आ जाता है कि यह सफाई कर्मचारी कितनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

अब नरेंद्र मोदी की पहल पर स्वच्छता पखवाड़ा में सफाई करते हुए फोटो खींचवाने

और उसे प्रचारित करने की होड़ मची हुई है।

लेकिन इनके बीच सफाई कर्मचारियों को दक्ष मजबूर बनाकर उन्हें बेहतर वेतनमान देने की घोषणा वाकई सराहनीय कदम है।

इस पहल की सोच झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड सरकार सफाईकर्मियों को तीन से पांच दिन का प्रशिक्षण दिलाकर उन्हें अकुशल से कुशल मजदूर की श्रेणी में लायेगी।

इसके बाद उनका पारिश्रमिक 7053 रुपये प्रति माह मिलेगा।

अभी उन्हें 6612 रुपये प्रति माह मिलते हैं।

इनके साथ ही, असंगठित क्षेत्र के सभी मजदूरों को स्किल्ड किया जायेगा।

सफाईकर्मियों को निर्माण कार्य से जुड़े मजदूरों की श्रेणी में रखने का निर्णय लिया गया है।

यह राज्य के हजारों सफाई कर्मचारियों को सामाजिक एवं आर्थिक तौर पर मजबूती प्रदान करने की दिशा में उठाया गया महत्वपूर्ण कदम है।

मुख्यमंत्री ने इसी समारोह में कहा है कि सारे सफाई मजदूर मात्र 10 रुपये में अपना रजिस्ट्रेशन करा कर मजदूर कल्याण योजना में शामिल हो सकेंगे।

इसके बाद उन्हें मृत्यु, आकस्मिक घटना, दुर्घटना की स्थिति में चार लाख रुपये तक राशि प्राप्त करने के हकदार हो सकेंगे।

नरेंद्र मोदी के कौशल विकास का सपना भी पूरा होगा

उन्हें प्रतिवर्ष कल्याण कोष में 100 रुपये की सहयोग राशि जमा करनी होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला या पुरुष मजदूर के अविवाहित दो बच्चों की शादी करने पर 30-30 हजार रुपये की सहायता दी जायेगी।

यह सहायता बेटा और बेटी दोनों की शादी में मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सफाईकर्मी बहनों को साइकिल और उनके बच्चों को 9-12वीं तक की पढ़ाई के लिए छात्रवृत्ति मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना की शुरुआत की जा रही है।

इसमें गरीब, मजदूरों को 10 रुपये में शुद्ध और पेटभर भोजन मिलेगा।

पहले चरण में यह योजना रांची, दुमका, जमशेदपुर, धनबाद, बोकारो व पलामू में शुरू होगी।

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि मेरी सरकार श्रमिकों के कल्याण, विकास और सम्मान देने के लिए प्रतिबद्ध है।

मजदूरों और सफाईकर्मियों के प्रति मेरी अपार श्रद्धा है।

श्रमशक्ति का सभी को सम्मान करना चाहिए।

सरकार सफाईकर्मी, असंगठित क्षेत्र के मजदूर, गरीब, उपेक्षित, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े वर्ग से आनेवाले लोगों को आर्थिक के साथ साथ सामाजिक न्याय दिला रही है।

सेवा से बढ़कर कोई अन्य पुण्य काम नहीं है।

झारखंड के छह जिलों में प्रारंभ होगी परियोजना

राज्य के सफाई कर्मचारियों के प्रति इस किस्म के ध्यान दिया जाना ही अपने आप में एक सराहनीय फैसला है।

इससे और कुछ नहीं तो कमसे कम इस काम में लगे मजदूर और दक्षता हासिल कर सकेंगे।

वर्तमान में सफाई मजदूर के कौशल को निखारने की कोई योजना ही नहीं है।

यानी एक बार जो सफाई मजदूर बना, वह बिना किसी अतिरिक्त प्रशिक्षण के जीवन भर इसी काम में लगा रहेगा।

अब उन्हें प्रशिक्षण दिये जाने की स्थिति में उनके कौशल को निखारने में मदद मिलेगी।

संभव है कि इसी प्रशिक्षण की बदौलत कोई एक सफाई मजदूर भी अगर आगे निकल गया तो इस पूरे अभियान को सफल समझा जाएगा।

देश में अवसरों की कमी भी अनेक किस्म के असंतोष पैदा करती है।

ऐसे में नये सिरे से किसी के लिए नये अवसर पैदा करना अपने आप में बड़ी बात है।

शहरीकरण के तेज विकास के बीच अगर सफाई कर्मचारी भी पहले के मुकाबले अधिक कुशल बने तो वे इस शहरों की तरफ आने वाली अंधी दौड़ को भी रोक पाने में कारगर भूमिका अदा कर सकते हैं।

राज्य के अनेक इलाकों में नगर पंचायतों का गठन होने के बाद भी वहां सफाई सुविधाओं और संसाधनों की कमी है।

ऐसे में प्रशिक्षण प्राप्त कामगार अगर अपने स्तर पर कोई खास उपलब्धि हासिल कर लेते हैं तो पूरे राज्य में उसे लागू करना ज्यादा आसान होगा।

इससे कई किस्म की सामाजिक और आर्थिक परेशानियां कम होंगी।

साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता की सोच को और कारगर बना पाना संभव होगा।

इसलिए यह माना जा सकता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन का श्रेष्ठ तोहफा झारखंड को सफाई कर्मचारियों को मिले इस अवसर से प्राप्त हो रहा है।

Please follow and like us:


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.