Press "Enter" to skip to content

ओड़िशा में 40वीं जूनियर खो-खो राष्ट्रीय चैंपियनशिप 2021 का आगाज







भुवनेश्वर: ओड़िशा के भुवनेश्वर में बुधवार को 40वीं जूनियर खो-खो राष्ट्रीय चैंपियनशिप 2021 का

आगाज हो गया। चैंपियनशिप के उद्घाटन समारोह में सभी टीमों के कप्तानों ने कलिंग औद्योगिक

प्रौद्योगिकी संस्थान (केआईआईटी) और कलिंग सामाजिक विज्ञान संस्थान (केआईएसएस) के

संस्थापक एवं सांसद अच्युत सामंत, ओड़िशा हॉकी प्रोत्साहन परिषद के अध्यक्ष दिलीप तिर्की,

ओडिशा के खेल एवं युवा सेवा विभाग के आयुक्त-सह सचिव आर विनील कृष्णा, खो-खो फेडरेशन

आॅफ इंडिया के महासचिव एमएस त्यागी, ओड़िशा खो-खो संघ के अध्यक्ष नारायण पात्रा और

सचिव प्रद्युम्न मिश्रा की उपस्थिति में निष्पक्ष खेल खेलने की शपथ ली।

सामंत ने चैंपियनशिप के उद्घाटन के मौके राज्य में एक समृद्ध खेल संस्कृति के विकास को बढ़ावा

देने के लिए ओडिशा की प्रतिबद्धता पर प्रकाश डालते हुए कहा, खो-खो एक ऐसा खेल है जो हमारे

दिल के करीब है और मैं ओडिशा सरकार, खो-खो फेडरेशन आॅफ इंडिया और ओड़िशा खो-खो संघ

को बधाई देता हूं। यहां जूनियर नेशनल चैंपियनशिप की मेजबानी की पहल करने के लिए धन्यवाद।

तिर्की ने टीमों को संबोधित करते हुए कहा, देश भर से युवा खिलाड़यिों की इतनी बड़ी संख्या को

देखकर खुशी हो रही है। खो-खो एक पारंपरिक भारतीय खेल है और आप में से प्रत्येक इस खेल की

विरासत को आगे ले जा रहा है। मैं आपको शुभकामनाएं देता हूं।

ओड़िशा में चुनौतियों के बावजूद इस चैंपियनशिप को एक साथ रखा है

विनील कृष्णा ने टीमों का स्वागत करते हुए कहा, मैं स्टेट खो-खो संघ और खो-खो फेडरेशन आॅफ

इंडिया के काम की सराहना करता हूं, जिन्होंने कोरोना महामारी के दौरान आने वाली चुनौतियों के

बावजूद इस चैंपियनशिप को एक साथ रखा है। राष्ट्रीय चैंपियनशिप न केवल उत्कृष्टता प्राप्त करने

का, बल्कि एक दूसरे से सीखने का भी मंच है।

अपनी वास्तविक क्षमता को उजागर करने का यह आपका सबसे अच्छा अवसर है। ताज के लिए

लड़ो, लेकिन एक दूसरे के साथ खेल की भावना का भी जश्न मनाओ। त्यागी ने कहा, मैं इस

कार्यक्रम के आयोजन में सहयोग के लिए ओडिशा सरकार को हार्दिक बधाई देता हूं।

उल्लेखनीय है कि पांच दिवसीय खो-खो चैंपियनशिप का बीजू पटनायक इंडोर हॉल, केआईआईटी

डीम्ड यूनिवर्सिटी, भुवनेश्वर में आयोजन किया जा रहा है।

इस चैंपियनशिप में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 53 प्रतिभागी टीमों के 600 से अधिक

खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। युवक और युवतियों की टीमों को आठ-आठ समूहों में बांटा गया है।

विजेताओं के फैसला के लिए नॉक-आउट दौर में जाने से पहले समूह चरणों में प्रतियोगिता

आयोजित की जाएगी।

मेजबान ओडिशा को युवकों की श्रेणी में ग्रुप डी में कर्नाटक, बिहार, मध्य प्रदेश और मेघालय के साथ

रखा गया है, जबकि युवतियों की श्रेणी में वह आंध्र प्रदेश, मणिपुर और जम्मू-कश्मीर के साथ ग्रुप ई

में है। राष्ट्रीय चैंपियनशिप अगले साल हरियाणा के पंचकुला में होने वाले चौथे खेलो इंडिया यूथ

गेम्स के लिए क्वालीफायर के रूप में भी काम करेगी।



More from खेलMore posts in खेल »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: