fbpx Press "Enter" to skip to content

नरेंद्र मोदी के गृहनगर महेसाणा के नजदीक भी नजर आने लगे भालू

महेसाणाः नरेंद्र मोदी के गृहनर महेसाणा के करीब भी भालू नजर आने लगे हैं। यूं तो पास

के जंगलों में भालू होने की जानकारी सभी को है। लेकिन यह भालू जंगल के सन्नाटे में ही

रहा करते हैं और भीड़ भाड़ अथवा शोर से दूरी बनाकर चलते हैं। समझा जाता है कि

लॉकडाउन के चलते शहरों में फैले सन्नाटे के बीच कई स्थानों पर आबादी वाले क्षेत्रों में

वन्यजीवों के दिखने की घटनाओं के बीच आज गुजरात के महेसाणा जिले में प्रधानमंत्री

नरेन्द्र मोदी के गृहशहर वडनगर की ओर जाने वाले राजमार्ग पर एक जंगली रीछ (भालू)

को देखा गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि करवडिया के नजदीक इस भालू के सड़क पर

खुलेआम दौड़ते देखे जाने के बाद वन विभाग ने पूरे इलाके को घेर लिया है तथा भालू को

पकड़ने के प्रयास किये जा रहे हैं। ज्ञातव्य है महेसाणा से लगभग एक सौ किमी दूर उत्तर

गुजरात के बनासकांठा जिले के बालाराम अभयारण्य और आसपास में भालू रहते हैं। पर

महेसाणा में इन्हें इस तरह नहीं देखा जाता है। समझा जाता है कि शहरों के लॉकडाउन से

सुनसान होने पर भालू इस तरह दूर तक निकल आया होगा। महेसाणा जिले का वडगाम

(यहां से लगभग 32 किमी दूर) श्री मोदी की जन्मस्थली है जहां उन्होंने अक्टूबर 2017 में

एक बड़ा रोड शो किया था।

नरेंद्र मोदी के शहर के अलावा भी अन्य स्थानों पर ऐसी घटनाएं

दरअसल अचानक से शांति होने तथा सड़कों पर वाहन यातायात भी बहुत कम हो जाने की

वजह से ही जंगली जानवर टहलते हुए उन इलाकों तक आ रहे हैं जो या तो आबादी है

अथवा आबादी के बिल्कुल करीब है। इससे पहले रांची में भी राष्ट्रीय पक्षी मोर नजर आया

था। बेरमो के इलाके में लोगों ने नील गाय का झूंड देखा था जबकि उत्तरी बंगाल के

ग्रामीण इलाकों में लोगों ने अन्य जानवर देखने के अलावा बाघ के पैरों के निशान भी गांव

के अंदर देखे थे


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from गुजरातMore posts in गुजरात »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »
More from पर्यावरणMore posts in पर्यावरण »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!