fbpx Press "Enter" to skip to content

बांका के एसपी अरविंद कुमार गुप्ता ने कई मुद्दों पर जानकारी दी

  • बिहार के एकमात्र मॉडल पुलिस लाइन में सप्ताह में दो दिन आते हैं 

  • पुलिस संबंधी आंतरिक काम इसी पुलिस लाइन से होता है

  • जिला के बालू माफिया के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गयी हैं

  • जनता से कहा टीकाकरण से बिल्कुल नहीं घबड़ाना है

दीपक नौरंगी

बांकाः बांका के एसपी अरविंद कुमार ने अपने काम काज के दौरान उन्होंने मॉडल पुलिस

लाइन के साथ साथ वहां बनाये गये अस्पताल का भी निरीक्षण किया। इस क्रम में वहां

कोरोना वैक्सिन के टीकाकरण कार्य की भी जानकारी ली गयी। वहां अब तक 725 लोगों

को यह वैक्सिन का टीका लगाया जा चुका है। बीस बेड वाले इस पुलिस अस्पताल में

वैक्सिन कार्यक्रम की जानकारी हासिल करने के क्रम में बांका के एसपी अरविंद गुप्ता ने

वहां तैनात लोगों से भी बात की और स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने वहां टीकाकरण के

लिए होने वाले पंजीयन केंद्र का भी दौरा किया। इस क्रम में उन्होंने बताया कि इस

अस्पताल के टीकाकरण केंद्र में सिर्फ पुलिसकर्मियों को ही कोरोना का टीका लगाया जा

रहा है। उन्होंने बताया कि यहां परीक्षाएं भी चल रही है और काफी पुलिस वालों की वहां

डियूटी लगी हुई है। इसके बीच से समय निकालकर पुलिस वालों के टीकाकरण का यह

कार्य संपादित किया जा रहा है।

वीडियो में समझ लीजिए पूरी रिपोर्ट को

बांका के एसपी ने अपने इलाके में बालू चोरी की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए वैसे

स्थानों पर सीसीटीवी लगा दिये हैं, जहां से ऐसी बालू तस्करी की शिकायतें आ रही थी।

इसके तहत बांका के पांच बड़े बालू माफिया भी बांका के एसपी के चंगुल में फंस गये।

उनके खिलाफ विधिसम्मत कार्रवाई की गयी है। इसके अलावा भी सामान्य किस्म के

अपराधों की तरफ जिला के एसपी की नजर है। चोरी और अन्य अपराधों को सुलझाने

तथा उसमें शामिल लोगों को गिरफ्तार करने की घटनाओं में भी तेजी आयी है। इसके

तहत एक बड़ी चोरी की वारदात में शामिल लोगों का 36 घंटे के अंदर पता लगा लिया

गया। श्री गुप्ता ने बताया कि सामान्य अपराध के साथ साथ अब साइबर क्राइम पर भी

अधिक ध्यान दिया जा रहा है।

बांका के एसपी ने डीएम के फर्जी एकाउंट का केस सुलझाया

ऐसे साइबर क्राइम के मामलों का भी उदभेदन हो रहा है और दोषी जेल भेजे जा रहे हैं। इस

क्रम में उन्होंने बांका के डीएम के नाम पर फर्जी फेसबुक एकाउंट बनाकर राज्य के तमाम

अधिकारियों से बात चीत करने की घटना भी प्रकाश में आयी थी। दरअसल राज्य के वरीय

अधिकारी भी यह नहीं समझ पाये थे कि इस एकाउंट से बात करने वाला असली डीएम

नहीं है। शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने इसपर भी काफी काम करते हुए उस आदमी को

धर दबोचा जो यह काम कर रहा था। उस जालसाज को दरभंगा से गिरफ्तार किया गया

है। पुलिस लाइन में बैठने के बारे में पूछे गये एक प्रश्न के उत्तर में बांका के एसपी ने

बताया कि वह सप्ताह में दो दिन पुलिस लाइन में बैठते हैं ताकि यहां की स्थिति की

जानकारी मिल सके। कोई दूसरा काम नहीं हो तो वह निश्चित तौर पर मंगलवार और

शुक्रवार को पुलिस लाइन आकर यहां की स्थिति की जानकारी लेते हैं। उन्होंने बताया कि

यहां बैठकर पुलिस बल की तैनाती को तय किया जाता है। मसलन पैक्स का चुनाव और

सरस्वती पूजा के लिए कहां कितना फोर्स लगेगा अथवा जिन्हें जिम्मेदारी सौंपी जा रही हैं

उनके घर में कोई दूसरी आवश्यकता तो नहीं है। इन सभी विषयों पर इस पुलिस लाइन से

ही अंतिम निर्णय लिया जा सकता है।

जनता से कहा टीकाकरण से बिल्कुल नहीं घबड़ाना है

बांका के एसपी से कोरोना के संबंध में पूछे गये प्रश्न के उत्तर में उन्होंने जनता के नाम

यह संदेश दिया कि अभी इस पर ढिलाई देने का कोई अवसर नहीं आया है। जो निर्देश

बचाव के लिए जारी किये गये हैं, उनका पूरी तरह पालन किया जाना चाहिए। इसी क्रम में

उन्होंने कोरोना वैक्सिन के संबंध में हो रही चर्चाओं के संबंध में कहा कि उन्होंने खुद और

विभाग के अन्य लोगों ने यह टीका लगाया है और वे पूरी तरह स्वस्थ है। इसलिए जब भी

लोगो को टीकाकरण के लिए निर्देशित किया जाए, उन्हे बिना झिझक के यह टीका तुरंत

लगाना चाहिए।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

One Comment

... ... ...
%d bloggers like this: