Press "Enter" to skip to content

बांग्लादेश का मोस्ट वांटेड कोलकाता से गिरफ्तार




राष्ट्रीय खबर




कोलकाताः बांग्लादेश का मोस्ट वांटेड बताया गया युवक कोलकाता क गुलशन कॉलोनी से गिरफ्तार किया गया है। दरअसल उत्तरप्रदेश एटीएस की सूचना पर उनके साथ मिलकर कोलकाता पुलिस ने तलाशी अभियान चलाया था। जहां से तीस वर्षीय मफीजुर रहमान नामक युवक को गिरफ्तार किया गया है।

उत्तरप्रदेश एटीएस के मुताबिक वह पुलिस रिकार्ड के लिहाज से मोस्ट वांटेड अपराधियों में से एक है। बांग्लादेश के मुंशीगंज इलाके के रहने वाले इस युवक का मुख्य अपराध मानव तस्करी का है। गुलशन कॉलोनी में छापा मारने के बाद उत्तरप्रदेश पुलिस की एटीएस टीम और कोलकाता पुलिस ने वहां से सत्रह अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया है।

इन सभी को विदेश भेजने के नाम पर मफीजुर ने हरेक से डेढ़ से दो लाख रुपये लिये हैं। कोलकाता पुलिस के मुताबिक कुछ दिन पहले ही उत्तरप्रदेश एटीएस ने लालबाजार पुलिस मुख्यालय को इसके बारे में जानकारी दी थी. उसके बाद ही उत्तरप्रदेश पुलिस की टीम यहां आयी थी। समझा जाता है कि उसके मोबाइल लोकेशन के आधार पर यह पता चल गया था कि वह दरअसल कहां पर छिपा हुआ है।




बांग्लादेश का मोस्ट वांटेड यूपी पुलिस के रडार पर था

उसके ठिकाने का पता चलने के बाद पुलिस गुप्त तरीके से उसकी गतिविधियों पर नजर रखे हुए थी। गुलशन कॉलोनी में जब दोनों राज्यों की पुलिस का संयुक्त छापा पड़ा तो वहां पर 17 अन्य लोग भी मिले, जो उस युवक के साथ ही थे।

मफीजुर पर उत्तरप्रदेश में पहले से ही अनेक मामले दर्ज होने की वजह से उसे बांग्लादेश का मोस्ट वांटेड अपराधी की श्रेणी में रखा गया है। उत्तरप्रदेश पुलिस उसे अपने साथ उत्तरप्रदेश ले जाएगी।

इसके लिए न्यायिक प्रक्रिया पूरी की जा रही है। वहां से पकड़े गये अन्य सत्रह लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। ठिकाने की तलाशी में कई पासपोर्ट और आधार कार्ड के साथ साथ अन्य सरकारी दस्तावेज भी मिले हैं।

इन दस्तावेजों की भी जांच की जा रही है। वैसे पुलिस यह जांच लेना भी चाहती है कि गिरफ्तार मफीजुर के साथ किसी आतंकवादी संगठन का भी कोई रिश्ता है अथवा नहीं।



More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पश्चिम बंगालMore posts in पश्चिम बंगाल »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: