fbpx Press "Enter" to skip to content

बंगभाषी समन्वय समिति ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का आभार जताया


रांचीः बंगभाषी समन्वय समिति के केन्द्रीय महासचिव, सन्दीप सिन्हा चौधरी ने प्रेस

विज्ञप्ति जारी कर कहा की आज पूरे राज्य में कोरोना महामारी को लेकर जो सरकारी

पाबंदी लगाई गई थी यह लगभग ख़त्म कर दिया गया है एवं सभी प्रकार के दुकान-बाज़ार,

मॉल, बस, टेम्पो, होटल, फुटपाथ के दुकानें तथा हर प्रकार के छोटी बड़ी सामान मिलना

सुचारु रूप से चालू हो चूका है। इस सकारात्मक सोच और आदेश के लिए राज्य के

मुख्यमंत्री माननीय हेमन्त सोरेन जी के साथ साथ उनके पूरी टीम तथा प्रशासन धन्यवाद

के पात्र है और हम सभी झारखंडवासी सदा आप सभों का आभारी रहेंगे।

सन्दीप सिन्हा चौधरी ने झारखण्ड के सभी मंदिरों, दुर्गा पूजा समितिओं एवं क्लबों के

सदस्यों से अपील करते हुए कहा कि आगामी 17 सितम्बर, 2020, दिन बृहस्पतिवार को

प्रातः 5 बजे से अपने अपने परिसर में महालया के प्रसारण का इन्तज़ाम करें, ताकि लोग

अपने अपने घर में बैठकर महालया में जो चण्डीपाठ किया जाता है उसे सुन सके तथा

अपने जीवन में आत्मसात कर सकें। श्री चौधरी ने कहा की महालया दुर्गा पूजा उत्सव की

शुरुआत का प्रतीक है।

बंगभाषी समन्वय समिति ने दुर्गा पूजा के लिए भी अपील की

महालया वह दिन है जब देवी दुर्गा का पृथ्वी पर अवतरण हुआ माना जाता है। पारंपरिक

रूप से महालया का महत्व हमारे जीवन में हमेशा से रहता है। श्री चौधरी ने यह भी अपील

किया है की इस वर्ष कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए, हम सभी सरकार एवं

स्थानीय प्रशासन का पूर्ण सहयोग करेंगे और इसी वजह से महालया के प्रसारण के दौरान

सभी मंदिरों, दुर्गा पूजा समितिओं एवं क्लब प्रांगण में सिर्फ साउंड ऑपरेटर और दो

सदस्यों के अलावा और किसी को भी उपस्थित नहीं रहना चाहिए।श्री चौधरी ने राज्य

सरकार, प्रशासन एवं केंद्रीय दुर्गा पूजा कमिटी को भी इस अवसर का समर्थन करने की

अपील की है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from धर्मMore posts in धर्म »
More from बयानMore posts in बयान »
More from राज काजMore posts in राज काज »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!