fbpx Press "Enter" to skip to content

बालूमाथ में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रशासन सख्त

  • बालूमाथ बाजार समेत कई दुकानों में मारा छापा

  • उल्लंघन के आरोप में चार दुकानों को किया सील

बालूमाथ : बालूमाथ में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने अब सख्ती

बरतना शुरू कर दिया है । साथ ही नियम विरुद्ध प्रतिष्ठान संचालित कर रहे लोगों के

खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी शुरू हो चुकी है। शुक्रवार को उपायुक्त जीशान कमर के

निर्देशानुसार अंचल सीआई कुमार सत्यम भारद्वाज के नेतृत्व में प्रशासनिक टीम ने

बालूमाथ बाजार में कई दुकानों में धावा बोला। इस दौरान सरकार के निर्देशों के विपरत

मास्क और ग्लब्स न पहनकर दुकान संचालित करने वाले दुकानों को सील कर दिया गया

।साथ ही कई दुकानों को कड़ी फटकार भी लगाई गई। जिन दुकानों को सील किया गया

उसमें शेरेगड़ा रोड स्तिथ गणपति स्वीट,बाजार रोड़ स्थित रूमी स्टोर,चेकनाका स्तिथ

संतोष गैस दुकान व गुड्डू किराना दुकान को प्रशासन के द्वारा सील किया गया है। वहीं

प्रशासन की इस कार्रवाई के बाद बाजार में हड़कंप देखने को मिल रहा है।

बालूमाथ में कल ही पहली बार पाये गये कोरोना मरीज

कल यानि गुरुवार को भी बालूमाथ में कोरोना का विस्फोट हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कल कुल चार पॉजिटिव केस पाया गया है।

पाए गए चार पॉजिटिव केस में तीन कोरोना वॉरीयर्स हैं। इनमें दो समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कर्मी, एक स्वास्थ्य कर्मी के पारिवारिक सदस्य तथा एक आरक्षी है।

बारियातु स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित एमपीडब्लू व उसकी पत्नी, समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बालूमाथ का लैब टेक्नीशियन व बारीयातु टीओपी का एक आरक्षी है।

ज्ञात हो कि बुधवार को भी दो स्वास्थ्य कर्मी पॉजिटिव पाए गए थे।a

सभी कोरोना संक्रमितों को कोविड केयर सेंटर बारियातू में भर्ती कर इलाज शुरू

किया गया है। वहीं जिला उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी ज़ीशान क़मर के निर्देश पर

संक्रमितों का ‘कांटैक्ट ट्रेसिंग’ तथा ‘ कंटेंमेंट ज़ोन’ चिन्हित कर इलाके की बरीकेटिंग करने

का कार्य पदाधिकारियों के देखरेख में किया जा रहा है। उपायुक्त ने कंटेंमेंट ज़ोन के लिए

दंडाधिकारी व पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति कर दी है। हाज़ी इस्लाम, हाज़ी तौकीर

अहमद, जावेद अख्तर, एम शमीम, अंजुमन के सदर हाजी शब्बीर अहमद, सेक्रेटरी हाजी

एम ज़्याउल्ला, मो , हाज़ी मुज़ाहिद, हाज़ी उमर अली, हाजी कय्युम अंसारी, कमरूल

आरफी समेत बालूमाथ के सामाजिक कार्यकर्ताओं ने बालूमाथ वासियों से सरकार द्वारा

कोरोना से बचाव के लिए निर्देशित गाईडलाईन का पूर्णतः अनुपालन करने का आह्वान

किया है।

मस्जिदों में नहीं लगावें भीड़, घरों में पढ़े नमाज: मौलाना ज़ियाउल्लाह

बालूमाथ अंजुमन इस्लामिया के सदर और सेक्रटरी ने कोरोना के खतरे को देखते हुए

हिदायत की है। अब तक कोरोना से मुक्त रहे बालूमाथ में कई लोग कोरोना पॉजिटिव पाये

गए है। कोरोना वायरस को लेकर लॉकडाउन में किसी भी धार्मिक स्थल पर भीड़ लगाने की

इजाजत नहीं है। बालूमाथ के मदीना मस्जिद इलाके को कंटेंमेंट जोन घोषित कर प्रशासन

द्वारा बैरिकेटिंग करके सील कर दिया गया है। इस दौरान पुलिस प्रशासन का लगातार

आना जाना लगा हुआ है। अक्सर, खासकर जुमा के दिन जुमा की नमाज में मस्जिदों में

भीड़ हो जा रही है। इन सब बातों के मद्देनजर बालूमाथ अंजुमन इस्लामिया के सेक्रेटरी

हाजी मौलाना मोहम्मद जियाल्लाह ने लोगों से अपील की है कि मस्जिदों में भीड़ नहीं

लगावें। लोग अपने अपने घरों में नमाज पढ़ें। मौलाना ज़ियाउल्लाह ने कहा कि कोरोना

वायरस से बचाव के लिए एक जगह जमा न होने की बुनियाद पर एहतियातन जुमा की

नमाज में भीड़ नहीं लगावें। मौलाना ने कहा कि मुल्क की हुकूमत की गुजारिश भी यही है

कि कोरोना से बचाव सिर्फ एहतियात है। मौलाना जियाउल्लाह ने यह भी कहा कि जैसा

माहौल है, ऐसे में भारी तादाद में एक जगह जमा होना नुकसानदेह हो सकता है। लिहाजा

नमाज अपने-अपने घरों में अदा करें, क्योंकि इंसानी जिंदगी अगर किसी एहतियात से

महफूज रहती है तो वह ज्यादा अहम है। मौलाना जियाउल्लाह ने लोगों से मास्क लगाने

और सोशल डिस्टेंस का पालन करने का भी अपील की है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from लातेहारMore posts in लातेहार »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!