fbpx Press "Enter" to skip to content

बालूमाथ का एक शिक्षा कर्मी युवती को भगा ले गया मामला दर्ज




बालूमाथ: बालूमाथ में एक शिक्षा कर्मी ने फिर से चर्चाओं का बाजार गर्म कर दिया।

बरवाडीह प्रखण्ड के एक पारा शिक्षक द्वारा विधालय के छात्राओं के साथ छेड़ छाड़

के लगे आरोप अभी शांत भी नहीं हुआ,

वहीं बालूमाथ प्रखण्ड के बारीयातु संकुल साधन सेवी सीआरपी द्वारा शादी के नियत से

एक युवती को भगाने का आरोप लगते ही शिक्षा विभाग चर्चा में आ गया।

बालूमाथ के रहने वाले मनोज कुमार ने बालूमाथ थाना में लिखित आवेदन देकर कहा है कि

बालूमाथ निवासी नागेन्द्र प्रसाद ने मेरी बहन को शादी का झांसा देकर अपहरण कर लिया है।

नागेन्द्र प्रसाद पिछले पांच वर्षो से शादी का प्रलोभन देकर यौन शोषण करता रहा।

और जब भी कहीं शादी ठीक होता है तो उसका शादी कटवा देता है।

मै अपनी बहन का शादी मांडर तय किया था और नौ जुलाई को उसकी शादी होनी थी इसी बीच 30 जून को नागेन्द्र प्रसाद शादी के नियत से अपहरण कर लिया।

जिस कारण बहन की शादी रूक गई आवेदन में कहा गया है कि मै जब भी मैं इसका विरोध किया तो

नागेन्द्र प्रसाद जान से मारने की धमकी देता है।

वे दबंग प्रवृत्ती का आदमी है। तथा एक बच्चे के बाप है।

मनोज कुमार ने बताया कि नागेन्द्र प्रसाद मेरे घर के बगल में प्राइवेट स्कूल चलाता था

और उसी स्कूल में मेरी बहन दाई की काम करती थी।

बालूमाथ पूलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए बालूमाथ कांड संख्या 153/19 धारा 365,366 भादवि के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

ज्ञात हो कि नागेन्द्र प्रसाद शिक्षा विभाग में पूर्व से भी चर्चित रहे है।

पिछले वर्ष उन्हे पोशाक आपूर्ति करने के आरोप में बर्खास्त किया गया था

लेकिन वे अपनी ऊंची पैरवी के कारण आठ माह बाद पुन: अपने पद पर कार्यरत हो गए।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •