Press "Enter" to skip to content

आस्ट्रेलिया के अस्पतालो में भी सुरक्षा का मसला छाया







  • 22 हजार अस्पताल कर्मचारी नौकरी छोड़ेंगे

सिडनीः आस्ट्रेलिया के अस्पतालों में भी सुरक्षा मुद्दा गरमा गया है।

आस्ट्रेलिया में न्यू साउथ वेल्स के अस्पतालों में सुरक्षा नहीं मुहैया कराये जाने पर यहां के 22 हजार से ज्यादा कर्मचारी नौकरी छोड़ने की भी योजना बना रहे है।

इससे वहले ‘500 एनएसडब्ल्यू हेल्थ सर्विसेज यूनियन’ के प्रतिनिधियों ने मंगलवार को

सर्वसम्मति से सभी अस्पतालों में कर्मचारियों की सुरक्षा के मामले को लेकर चर्चा करते हुए

एक अगस्त को चार घंटे के लिए काम बंद करने के लिए मतदान किया।

एनएसडब्लयू के सचिव गेरार्ड हेस ने कहा, ‘‘हमने बहुत से लोगों को चाकू मारते देखा है,

बहुत से लोगों को गोली भी मारी गयी है, बहुत से लोगों पर थूका गया और घूंसा मारा गया है,

बहुत से लोग मजदूरों की तरह काम करते हैं,

काम करने वाले बहुत से कर्मचारी इसको लेकर तनाव से ग्रसित है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अब स्वास्थ्य सेवाओं में सुरक्षा को गंभीरता से लेकर मौलिक रूप से बदलने का समय आ गया है।’’

उन्होंने कहा कि 250 से अधिक सुरक्षा गार्ड को नियुक्त करने के लिए सरकार से आग्रह किया गया है।

पिछले वर्ष एनएसडब्ल्यू अस्पतालों में कर्मचारियों पर हमले की 465 रिपोर्ट मिली थी।

आस्ट्रेलिया के अस्पतालों में हाल के दिनों में हमले बढ़े हैं

आम तौर पर ऐसी शिकायत आम तौर पर भारतीय अस्पतालों में मिलती रही है।

इसी वजह से भारतीय डाक्टर लगातार डाक्टर्स प्रोटेक्शन एक्ट की मांग भी करते आ रहे हैं।

दूसरी तरफ पाकिस्तान में स्वास्थ्य कर्मियों को जानलेवा चुनौतियों के बीच काम करना पड़ता है।

खास कर टीकाकरण में सोशल मीडिया में अफवाह फैलाये जाने की वजह से पाकिस्तान में

अनेक स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला हुआ है। इनमें से कुछ की जानें भी गयी हैं।

आस्ट्रेलिया में अस्पतालों में इस किस्म के हमलों की घटना हाल के दिनों में बढ़ी है।

लेकिन स्थिति नियंत्रण के बाहर जाने की वजह से ही वहां के कर्मचारी

नौकरी छोड़ने जैसा गंभीर फैसला लेने की घोषणा कर रहे हैं।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com