fbpx Press "Enter" to skip to content

आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने की 2023 फीफा विश्वकप की संयुक्त दावेदारी

सिडनीः आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने 2023 फीफा महिला विश्वकप की

मेजबानी के लिये शुक्रवार को संयुक्त दावेदारी पेश की। दोनों देशों ने

एशिया-ओसनिया क्षेत्र में महिला फुटबाल को बढ़ावा देने के मकसद से

संयुक्त मेजबानी की दावेदारी पेश की है।

यह पहला मौका भी है जब दो देशों ने महिला विश्वकप की मेजबानी के

लिये संयुक्त दावेदारी पेश की है जिसमें पहली बार 32 टीमों के साथ टूर्नामेंट

खेला जाएगा। आस्ट्रेलिया फुटबाल संघ(एफएफए) और न्यूजीलैंड फुटबाल

(एनजेडएफ) ने आधिकारिक रूप से फीफा के ज्युरिख स्थित मुख्यालय में

अपना प्रस्ताव पेश किया और इसके बाद मेलबोर्न के एएएमआई स्टेडियम

में इसकी घोषणा की।

आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की सरकारों ने भी अपने फुटबाल संघों के इस

फैसले का समर्थन किया है। आस्ट्रेलिया के युवा एवं खेल मामलों के मंत्री

रिचर्ड कोलबेक ने कहा कि ट्रांस-तस्मान विश्वकप न केवल विश्व स्तरीय

स्टेडियमों की सुविधा उपलब्ध कराएगा बल्कि स्थानीय लोगों की विविध

फुटबाल संस्कृति को भी दर्शाएगा। उन्होंने कहा,‘‘ हमारा फीफा महिला

विश्वकप 2023 की मेजबानी की दावेदारी करने का मकसद आस्ट्रेलिया में

लड़कियों और महिलाओं को फुटबाल के खेल से जोड़ना और उन्हें इसके

लिये प्रेरित करना है, साथ ही यह खेल उनकी शारीरिक क्षमता को बढ़ाने के

साथ अच्छी सेहत के लिये भी जरूरी है।’’

कोलबेक ने कहा,‘‘ आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दोनों का ही फुटबाल और बड़े

टूर्नामेंटों की मेजबानी में शानदार इतिहास रहा है। हमारे पास बढ़िया

मूलभूत ढांचा, विशेषज्ञता और जोश है और हम 2023 महिला विश्वकप की

संयुक्त मेजबानी कर सकते हैं।’’ अभी तक आठ देशों ने इस विश्वकप की

मेजबानी में दिलचस्पी दिखाई है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply