Press "Enter" to skip to content

असम के गोलपारा में पुलिस ने मुठभेड़ में दो संदिग्ध डकैतों को मार गिराया




  • राष्ट्रीय खबर

गुवाहाटी : असम के गोलपारा जिले में पुलिस मुठभेड़ में दो संदिग्ध डकैतों की मौत हो गई




और एक अन्य घायल हो गया। एक अधिकारी ने रविवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने

बताया कि घटना शनिवार देर रात गोलपारा कस्बे के पास हुई, जब पांच हथियारबंद लुटेरों ने

पुलिसकर्मियों के एक दल पर गोलियां चला दीं और वहां से भागने की कोशिश की।

तीन महीने पहले भाजपा के नेतृत्व वाली दूसरी सरकार के सत्ता में आने के बाद से राज्य में

पुलिस मुठभेड़ों में कम से कम 23 मिलिशिया और अपराधियों को ढेर किया गया है। इसके

अलावा, 35 अन्य घायल हो हुए। इन लोगों पर ये कार्रवाई इसलिए हुई है, क्योंकि उन्होंने

कथित तौर पर सर्विस हथियार छीनने या हिरासत से भागने का प्रयास किया। अधिकारी ने

बताया कि गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिसकर्मियों के समूह ने रोंगसाई इलाके से

हथियारबंद लुटेरों को लेकर जा रही एक कार का पीछा करना शुरू किया।मुठभेड़ में मारे गए

दो डकैतों की पहचान रफजुद्दीन और बासित अली के रूप में हुई है। गिरफ्तार किए गए दूसरे

डकैत की पहचान रशीदुल इस्लाम के रूप में हुई है। रशीदुल इस्लाम को भी गोलीबारी में गोली

लगी थी और उसका एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। इस बीच, पुलिस एक और डकैत को




पकड़ने की कोशिश कर रही है, जो भागने में सफल रहा। असम के डीजीपी भास्कर ज्योति

महंत ने कहा कि “दो डकैतों (रफजुद्दीन और बासित अली) की गोलीबारी में मौत हो गई,

जबकि एक रशीदुल इस्लाम घायल हो गया। हम चौथे साथी की तलाश कर रहे हैं। इन सभी के

खिलाफ पहले भी डकैती के मामले दर्ज हैं।

असम के गोलपारा में मारे गये अपराधियों के पुलिस रिकार्ड हैं

एक बंदूक और जिस कार में वे यात्रा कर रहे थे, उसे बरामद कर लिया गया है। अधिकारी ने

बताया कि घायल डकैत मुठभेड़ वाली जगह से भाग गया और फिर उसे स्थानीय लोगों ने

पकड़ लिया। इसके बाद डकैत को पुलिस के हवाले कर दिया गया। उन्होंने कहा कि आरोपी का

फिलहाल गोपालपारा सिविल अस्पताल में इलाज चल रहा है। उन्होंने आगे कहा कि एक

डकैत की घटनास्थल पर मौत हो गई, जबकि एक अन्य का शव सुबह के समय घटनास्थल के

पास से बरामद हुआ। मई के बाद से पुलिस मुठभेड़ों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। इसमें कई

संदिग्ध विद्रोहियों और अपराधियों को मार गिराया गया है। इन लोगों के खिलाफ हिरासत से

भागने की कोशिश करने पर कार्रवाई की गई है। इस वजह से असम में राजनीतिक कोहराम

मच गया है।



More from असमMore posts in असम »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: