Press "Enter" to skip to content

अशोक लीलैंड ने भी अपने यहां काम बंदी की घोषणा की




नईदिल्लीः अशोक लीलैंड ने भी अपने यहां इस माह से काम बंदी की घोषणा कर दी है।

देश के अन्यतम बड़े ट्रक निर्माता ने भी यह फैसला बाजार की मंदी हालत को देखते हुए लिया है।

कंपनी के पांच संयंत्रों में यह फैसला एक साथ लागू किये जाने की जानकारी दी गयी है।

कंपनी का मानना है कि बाजार में उसके उत्पादनों की मांग कम हो गयी है।

बाजार में ट्रकों की खपत नहीं होने की वजह से पहले से ही काफी स्टॉक इकट्ठा हो गया है।

इसलिए बाजार की स्थिति सुधरने तक कंपनी अपने उत्पादन को कम रखना चाहती है ताकि इस मंदी का मुकाबला किया जा सके।

अशोक लीलैंड ने अपने इन्नोर प्लांट में इस माह 16 दिन की काम बंदी का फैसला किया है।

दूसरी तरफ उसके होशुर प्लांट में पांच दिन काम बंद करने का फैसला सुना दिया गया है।

इसके अलावा पंतनगर प्लांट में इस माह 18 दिन काम बंद रहेंगे

जबकि अलवर और भंडारा के प्लांटों में 10-10 दिन का अवकाश घोषित किया गया है।

इन अवकाशों के माध्यम से कंपनी वेतन पर होने वाले अपने खर्च को कम कर अपने आर्थिक संसाधनों को बचाना चाहती है।

अशोक लीलैंड से पहले ही मारूति में हुई है काम बंदी

उल्लेखनीय है कि ऑटोमोबाइल उद्योग में आयी मंदी के बाद सबसे पहले मारूति ने अपने संयंत्रों में काम बंदी का फैसला लागू किया था।

अब इसी क्रम में अन्य कंपनियों ने भी मांग कम होने की वजह से अपने उत्पादन घटा दिये हैं।

उत्पादन कम होने की वजह से अब कंपनी के पास कामगारों के लिए

पर्याप्त काम नहीं होने की वजह से काम बंदी का ऐसा फैसला लेना पड़ा है।

इधर वाहन निर्माता कंपनियों में काम बंदी होने की वजह से उसके कल पूर्जे बनाने वाली अनेक कंपनियां भी बंद होने लगी हैं।

यहां तक कि टाटा में भी अनेक एंसिलरी उद्योग इसी वजह से पहले ही बंद हो चुके हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
More from Hindi NewsMore posts in Hindi News »

Be First to Comment

Leave a Reply