fbpx Press "Enter" to skip to content

छाई प्रदूषण को लेकर ग्रामीण ने रोकी ट्रांसपोर्टिंग

  • वार्ता का आश्वासन मिला तो हटा अवरोध

  • इलाके में जहां तहां छाई गिरा रहे हैं ट्रक चालक

  • ऐशपौंड के इंचार्ज को खदेड़ दिया नाराज ग्रामीणों ने

बेरमो /बोकारो थर्मलः छाई प्रदूषण से होने वाली परेशानी को लेकर

ग्रामीण उबल रहे हैं। डीवीसी के ऐश पौण्ड से होने वाली छाई

ट्रांसपोटिंग के दौरान डम्फर चालकों के द्वारा मुख्य सड़क के किनारे

जहां-तहां छाई गिरा दिए जा रहे हैं। इससे इलाके में छाई प्रदूषण की

समस्या बढ़ती ही जा रही है। इसके विरोध में गुरुवार को ग्रामीणों ने

नईबस्ती मुख्य सड़क समीप प्रदूषण को लेकर छाई टांस्पोर्टिंग को

घंटों बाधित कर दिया। ऐश पौंड के साइट इंचार्ज नयाबस्ती पहुँचे पर

आक्रोशित ग्रामीणों ने उन्हें भी खदेड़ दिया। छाई ट्रांस्पोर्टिंग रोके जाने

के बाद कंपनी ने स्थानीय पुलिस को सूचना दी। सूचना के आलोक में

सअनि मनोज झा दल-बल के साथ नयाबस्ती पहुंचे और उग्र ग्रामीणों

की बातें सुनी। ग्रामीणों ने बताया कि आए दिन कंपनी के द्वारा सड़क

के किनारे छाई गिरा दी जा रही है। इसकी सूचना कंपनी को कई बार दी

गयी। लेकिन एक बार भी कंपनी व कंपनी के पदाधिकारियों ने सुध

नहीं ली। ग्रामीणों में काफी आको्रश व्याप्त है। छाई गिरा देने के

कारण सड़क में गुजरना मुश्किल हो गयी है। छाई उड़कर घरों में घुस

जा रहा है। कंपनी के द्वारा पानी का छिड़काव भी नहीं किया जाता है

और ना सफाई की जाती है।

छाई प्रदूषण के साथ साथ रोजगार का मसला भी

ग्रामीणों ने पुलिस से कहा कि सड़क की सफाई व पानी छिड़काव के

लिए नयाबस्ती के 25 युवकों को काम में रखा जाए और साइड इंचार्ज

को हटाया जाय ,नहीं तो ट्रांस्पोर्टिंग बंद रहेगी। ग्रामीणों की मांग पर

थाना प्रभारी उमेश कुमार ठाकुर ने कंपनी के साथ वार्ता कर मामले को

सलटाने के लिए शुक्रवार तक का समय मांगा। और शुक्रवार को थाना

प्रभारी के उपस्थित में कम्पनी  के साथ वार्ता करने पर सहमति बनी

तब जाकर ग्रामीण माने और ट्रांसपोटिंग कार्य शुरु हुआ। इस आंदोलन

में मुख्य रूप से महेंद्र यादव, जितेंद्र यादव, रामेश्वर यादव, पिंटू यादव,

लाली यादव, कार्तिक सिंह, अरविंद यादव, सुरेश कुमार यादव, मन्टू

यादव, भोला यादव, धीरू यादव सहित गांव के दर्जनों युवक शामिल

थे। लोगो ने बताया कि इससे पूर्व बुुडगड्डा और बोकारो थर्मल

लाल चैक के दुकानदारों ने छाई प्रदूषण को लेकर पूर्व में भी छाई

ट्रांस्पोर्टिंग को रोकी गयी थी लेकिन कंपनी अपनी आदत से बाज नहीं

आ रहीं है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!