Press "Enter" to skip to content

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने पाक को चेताया और कहा







  • किसी भी दुस्साहस का दिया जाएगा मुंह तोड़ जवाब

नयी दिल्ली : सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि पाकिस्तान के हर

दुस्साहस का मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा और किसी भी आतंकवादी गतिविधि को बख्शा नहीं जाएगा।

कारगिल संघर्ष के 20 वर्ष पूरे होने के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में रावत ने कहा

कि पाकिस्तानी सेना बार-बार दुस्साहस करती है,

चाहे वह राज्य प्रायोजित आतंकवाद हो या भारत में घुसपैठ करना।

उन्होंने कहा,भारतीय सेना मजबूती से खड़ी है और हमारी क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा का तैयार है।

इसमें कोई संदेह ना हो कि हर दुस्साहस का मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्येतर तत्वों का उदय और युद्ध में आतंकवाद का इस्तेमाल और

अन्य अनियमित तरीकों का इस्तेमाल नया चलन बन गया है।

सेना प्रमुख ने कहा कि साइबर और अंतरिक्ष डोमेन ने युद्धश्रेत्र का परिदृश्य बदल दिया है।

रावत ने यह भी कहा कि आतंकवाद की किसी भी गतिविधियों को बख्शा नहीं जाएगा।

रावत ने कहा, उरी और बालकोट आतंकवादी हमले के बाद किए गए

हवाई हमले आतंकवाद गतिविधियों के खिलाफ हमारे राजनीतिक और सैन्य संकल्प को दर्शाता है।

आतंकवाद की किसी भी गतिविधियों को बख्शा नहीं जाएगा।

कारगिल संघर्ष के मौके पर जनरल रावत के इस बयान को भारतीय सेना की रक्षा तैयारियों से जोड़क देखा जा रहा है।

जिसमें उन्होंने अंतरिक्ष की स्थिति का भी संकेत दिया है।

याद रहे कि हाल ही में भारत ने अंतरिक्ष में दुश्मन के सैटेलाइट को नष्ट करने का परीक्षण भी किया था।

सेना प्रमुख ने सभी सीमाओं का किया है लगातार दौरा

पाकिस्तान के साथ तनाव की स्थिति में सेना प्रमुख जनरल रावत ने देश की सभी महत्वपूर्ण सीमाओं का दौरा किया है।

समझा जाता है कि सीमा पर सेना की तैयारियों का जायजा लेने के लिए ही जनरल रावत इन तमाम इलाकों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्हें आवश्यक निर्देश भी दे आये हैं।

अभी हाल ही में वह रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के साथ कश्मीर के साथ साथ सियाचीन के दौरे पर भी गये थे।



Spread the love
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
    3
    Shares

One Comment

Leave a Reply

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com