fbpx Press "Enter" to skip to content

भारत – भूटान सीमा क्षेत्र में चीन के एके -47 समेत हथियार और गोला-बारूद जब्त

  • चीन के निर्देश पर आईएसआई कर रही है काम

  • गुप्त सूचना के आधार पर चिरांग में छापामारी

  • बोड़ोलैंड काउंसिल का चुनाव होना निर्धारित है

ब्यूरो प्रमुख

गुवाहाटी: भारत – भूटान सीमा पर फिर से हथियार बरामद किये गये हैं। इस बार भी चीन

में निर्मित अत्याधुनिक हथियार ही मिले हैं। इससे साबित हो गया है कि चीन के निर्देशों

पर आईएसआई कर रही हथियार भेजने का काम। सरकार तक पहुंची जानकारी के

अनुसार, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई को चीन से निर्देश मिला है कि वह

पूर्वोत्तर राज्य में भारी मात्रा में हथियार पहुंचाए। इस दौरान, असम पुलिस ने एक गुप्त

सूत्रों की सूचना के अनुसार असम के चिरांग क्षेत्र में छापेमारी कर भारी मात्रा में हथियार

और गोला-बारूद बरामद किया। बरामद हथियारों और गोला-बारूद में एके -47 राइफल,

लाइव गोला बारूद और स्वचालित पिस्तौल शामिल हैं। पुलिस सूत्र ने बताया कि पुलिस

की टीम ने अभियान चलाते हुए असम के चिरांग जिला के रूनिखाता थाना अंतर्गत दो

अलग-अलग स्थानों से भारी मात्रा में हथियार व गोला-बारूद बरामद किया है।

उल्लेखनीय है कि बोड़ोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल (बीटीसी) का आने वाले दिनों में चुनाव

होने हैं। बीटीसी का कार्यकाल समाप्त होने के बाद इलाके में राज्यपाल शासन लागू है।

बोड़ोलैंड के चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है इस घटना को

चुनावों के मद्देनजर पुलिस प्रशासन ने बीटीसी के चारों जिला कोकराझार, उदालगुरी,

बाक्सा व चिरांग जिलों में अवैध हथियारों के विरूद्ध एक अभियान आरंभ किया है। चिरांग

पुलिस अधीक्षक सुधाकर सिंह ने पत्रकारों को सम्बोधित करते हुये बताया कि गुप्त सूचना

के आधार पर गुरुवार की सुबह रूनिखाता थाना अंतर्गत रानीपुर के जम्बूगुरी और

अम्लायगुरी में चिरांग पुलिस उपाधीक्षक (मुख्यालय) प्रकाश मेधी, डीएसपी (मुख्यालय)

और रूनिखाता के सर्किल इंस्पेक्टर के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम ने अभियान चलाते

हुए जम्बूगुरी से दो मैगज़ीन के साथ एके सीरिज की एक राइफल, 7.62 एमएम की 50

राउंड जिंदा कारतूस और अम्लायगुरी से मैगज़ीन के साथ एक 09 एमएम की कार्बाइन,

मैगज़ीन के साथ 07 फैक्ट्री निर्मित पिस्तौल, दो चीनी हथगोला और 25 राउंड जिंदा

कारतूस बरामद किया है। इस संबंध में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

भारत – भूटान सीमा पर तलाशी और जांच जारी है

पुलिस मामले की जांच में जुटी है। हालांकि, यह पता नहीं चल सका है कि हथियार किस

उग्रवादी गुट का है। संभतः आत्मसमर्पण करने वाले किसी उग्रवादी गुट के हो सकते हैं।

पिछले चार महीनों के दौरान बीटीसी के चारों जिलों से काफी मात्रा में हथियार बरामद

किए गए हैं।पुलिस अधिकारी ने कहा कि चीन के निर्देशों पर आईएसआई कर रही हथियार

भेजने का काम,सरकार तक पहुंची जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी

आईएसआई को चीन से निर्देश मिला है कि वह पूर्वोत्तर राज्य में भारी मात्रा में हथियार

पहुंचाए।सूत्रों ने बताया कि इस बात की पुष्टि हालिया दिनों में सुरक्षाबलों द्वारा बरामद

किए गए जखीरों से भी होती है। इन जखीरों में पाए अधिकतर हथियारों पर चीन की

मार्किंग थी।यह खुफिया रिपोर्ट सामने आने के बाद सुरक्षाबलों ने पूर्वोत्तर राज्यपर अपनी

घुसपैठ-रोधी पंक्ति को और मजबूत कर दिया है।

[subscribe2]

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from असमMore posts in असम »
More from आतंकवादMore posts in आतंकवाद »
More from भूटानMore posts in भूटान »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »

2 Comments

... ... ...
%d bloggers like this: