fbpx

अरगड्डा के पुराने खदान पर छापामारी कर 6 कलसाइन पत्थर लदा ट्रैक्टर किया जप्त

अरगड्डा के पुराने खदान पर छापामारी कर 6 कलसाइन पत्थर लदा ट्रैक्टर किया जप्त

सिरकाः अरगड्डा के पुराने बंद खदान से भी पत्थर निकाले जा रहे हैं। वहां के झोपड़ी बी.

सीम पोखरिया पर शुक्रवार खनन विभाग रामगढ़ और वन विभाग की संयुक्त टीम ने

छापेमारी कर अवैध कलसाइन पत्थरों से लदे 6 ट्रैक्टर और एक खाली कुल सात ट्रैक्टर को

पकड़ा हैं। छापामारी करने आए खनन, वन और पुलिस बल के टीम को देखकर अरगड्डा

पोखरिया से अवैध खनन कार्य में लगे दर्जनों मजदूर ट्रैक्टर छोड़कर फरार हो गए। जिसे

खनन छापामारी दल के द्वारा जप्त कर अवैध खदान के अंदर से बाहर निकाल कर ऊपर

दलदली मार्ग से आगे बढ़ा खड़ा किया। छापामारी के बाद अवैध कलसाइन पत्थरों के धंधे

में लगे माफियाओं के बीच हड़कंप मच गया। इस संबंध में खनन विभाग के अधिकारी

नितेश कुमार ने बताया कि अवैध पत्थरों से लदे 6 ट्रैक्टर व एक खाली ट्रैक्टर कुल 7 को

जप्त कर आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जा रही। अवैध कल साइन पत्थरों से लोड ट्रैक्टरों

को रामगढ़ थाना ले जाने की कोशिश प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा की जा रही थी। मौके

पर वन विभाग के अधिकारी पवन कुमार, आनंद कुमार समेत सशस्त्र जवान उपस्थित

थे।

अरगड्डा के पुराने खदान में 12 वर्षों से चल रहा था खेल

ग्रामीण बताते है कि बीते लगभग 12 वर्षों से अधिक समय से लगातार कलसाइन पत्थरों

के अवैध खनन कर गिद्दी थाना क्षेत्र के केडी कंपनी के समीप एक फैक्ट्री में माफियाओं

द्वारा एकत्रित किया जाता है। यहां से बड़े मालवाहक वाहन में कलसाइन के पत्थरों से बने

गर्त को बोरों में पैक कर बाहर की फैक्ट्रियों में ऊंची कीमत पर बेचा जाता था। बंद

अरगड्डा पोखरिया खदान के नीचे लगी आग की तपिश से यहां के पत्थर तप कर तैयार हो

जाते हैं। जिसे बड़े आसानी से पाउडर बना ईट बनाने के लिए भी उपयोग किया जाता है।

बाहर जाने के लिए तैयार थे अवैध ट्रैक्टर

सूत्र बताते हैं कि अरगड्डा पोखरिया से अवैध कलसाईन पत्थरों को लादने के बाद ट्रैक्टर

कतारबद्ध होकर बाहर निकल कर गिद्दी- रामगढ़ मुख्य सड़क से केडी कंपनी फैक्ट्री जाने

के लिए तैयार थे। तभी खनन, वन और पुलिस विभाग की संयुक्त टीम खदान के अंदर आ

पहुंचे।

अवैध कलसाइन के पत्थरों की 6 टन होती थी लदाई

बताया जाता है कि अवैध कलसाइन ट्रैक्टरों पर प्रतिदिन 5 से 6 टन के अनुपात से लदाई

की जाती हैं। इसी के अनुसार अवैध ढ़ुलाई में लगे अवैध ट्रैक्टर मालिकों को हफ्ते में पेमेंट

पत्थर माफिया के द्वारा किया जाता है।

जीएम ऑफिस चौक से 10 बजे गुजरती है अवैध पत्थरों की खेप

लोग बताते हैं कि अवैध कलसाइन पत्थर लदा बिना नंबर के ट्रैक्टर तेज रफ्तार में प्रत्येक

दिन सुबह के 10 से 12 के बीच सीसीएल अरगड्डा जीएम ऑफिस के समीप मुख्य सड़क

से थाना रामगढ़ क्षेत्र से गिद्दी थाना क्षेत्र की ओर जाते हैं। जिसे माफियाओं का नेटवर्क

नियंत्रित करता हैं। यह पत्थरों का खेल दिन के उजाले में बिना किसी रूकावट के वर्षों से

चला आ रहा हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Rkhabar

Rkhabar

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: