fbpx Press "Enter" to skip to content

आलोक वर्मा ने अपने खिलाफ रिपोर्ट को साजिश बताया







नईदिल्लीः आलोक वर्मा ने अपने खिलाफ प्रसारित एक सूचना को बड़ी साजिश का हिस्सा बताया है।

सीबीआई के पूर्व निदेशक आलोक वर्मा ने अपने खिलाफ साजिश की चर्चा की है।

दरअसल मीडिया में उनके खिलाफ एक खबर चलने के बाद उन्होंने यह प्रतिक्रिया दी है।

श्री वर्मा ने कहा कि यह बात ही गलत है कि उन्होंने राष्ट्रपति को कोई चिट्ठी लिखी थी।

उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि एक मीडिया चैनल ने जानबूझकर इस अफवाह को फैलाने का काम किया है।

यह कोई गलती नहीं है बल्कि एक सोची समझी साजिश है।

उन्होंने कहा कि दरअसल वैसी किसी चिट्ठी का हवाला दिया जा रहा है, जो उन्होंने कभी लिखी ही नहीं है।

इसी वजह से इस पूरे प्रकरण मे साजिश के संकेत मिलते हैं।

उल्लेखनीय है कि राकेश अस्थाना के खिलाफ जांच की स्वीकृति देने के बाद आनन फानन में उन्हें सीबीआई के निदेशक पद से हटा दिया गया था।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर अपने पद पर उन्हें सरकार ने बहाल तो किया था लेकिन दो दिन बाद ही फिर से उनका स्थानांतरण कर दिया गया था।

उसके बाद श्री वर्मा ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली थी।

जिस पर गृह मंत्रालय ने उनके खिलाफ कार्रवाई की प्रक्रिया प्रारंभ की थी।

आलोक वर्मा सीबीआई विवाद की वजह से चर्चा में आये थे

सीबीआई के निदेशक पद पर रहते हुए उन्होने सीबीआई के अतिरिक्त निदेशक राकेश अस्थाना के खिलाफ घूसखोरी की जांच के आदेश दिये थे।

इसी वजह से आनन फानन में सरकार हरकत में आ गयी थी।

दरअसल गुजरात कैडर के राकेश अस्थाना नरेंद्र मोदी और अमित शाह के करीबी अफसर माने जाते हैं।

उन्हें सीबीआई निदेशक बनाने के मकसद से ही वहां लाया गया था।

इस बीच विवाद उभरने की वजह से दोनों ही अधिकारियों को वहां से हटाने का फैसला सरकार को लेना पड़ा।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

4 Comments

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.