Press "Enter" to skip to content

ऑलराउंडर खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो ने कहा मैं धोनी के लिए कुछ विशेष करना चाहता हूं

Spread the love



नयी दिल्लीः ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो ने कहा है कि वह अपनी टीम के कप्तान महेंद्र सिंह




धोनी के लिए कुछ विशेष करना चाहते हैं। वेस्टइंडीज के स्टार ऑलराउंडर ब्रावो पहले

मुंबई इंडियंस के लिए खेलते थे लेकिन 2011 में उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीदा। 2011

से ही ब्रावो चेन्नई टीम का हिस्सा हैं और लगातार टीम का सहयोग करते रहे हैं। ब्रावो ने

चेन्नई के लिए अब तक 104 विकेट झटके हैं।

ऑलराउंडर ब्रावो का धोनी के साथ विशेष लगाव रहा है

ब्रावो ने कहा, ‘‘मैं धोनी के लिए कुछ विशेष करना चाहता हूं। वह

अपने करियर के अंतिम दौर में हैं और उनका करियर शानदार रहा है। उनका मेरे साथ-

साथ अन्य खिलाड़यिों के करियर में बड़ा योगदान रहा है। रोहित शर्मा और विराट कोहली

भी उनकी तारीफ करते हैं। उन्होंने कई खिलाड़यिों को मौका दिया जिन्होंने कभी कल्पना

भी नहीं की थी कि वह भारत के लिए खेल सकेंगे। इसलिए मैं उनके लिए कुछ विशेष

करना चाहता हूं।’’ उन्होंने क्रिकबज के एक शो में कहा, ‘‘सीएसके ने ब्रावो को पहचान

दिलाई। एक समय में मेरे करियर में कई उतार-चढ़ाव आए। मुझे टेस्ट टीम से बाहर रखा

गया और वनडे में कभी शामिल किया गया तो कभी बाहर किया गया। लेकिन सीएसके के

लिए खेलने से मेरे अंतरराष्ट्रीय करियर में जान आ गयी। मैंने सीएसके के साथ बिताए हर

पल का आंनद लिया है।

मेरा करियर सीएसके लिए खेलते हुए काफी सफल रहा।

दो बार आईपीएल जीता, पर्पल कैप जीती और चैंपियंस लीग के भी विजेता बने।’’

ब्रावो के सीएसके के साथ जुड़ने में कप्तान धोनी के साथ ही कोच स्टीफन फ्लेमिंग का भी

योगदान रहा। ब्रावो ने कहा, ‘‘धोनी और फ्लेमिंग के रिश्ते काफी अच्छे हैं और दोनों एक

दूसरे को समझते हैं। वे लोग बाहरी हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं करते। दोनों ही खिलाड़ियों का

आकलन उनके प्रदर्शन के हिसाब से नहीं करते। आप बेहतर प्रदर्शन करो या नहीं वे आपके

साथ अच्छा व्यवहार ही करेंगे। लेकिन अन्य टीमों में अगर आपने प्रदर्शन नहीं किया तो

आप पर दबाव बढ़ जाता है। सीएसके साथ ऐसा नहीं है।’’ ऑलराउंडर ने कहा, ‘‘धोनी




हमेशा खिलाड़ियों से कहते हैं कि आप यहां इसलिए हैं क्योंकि हमें लगता है कि आप

बेहतर हैं। आपको इसे साबित करने की जरुरत नहीं है। हम आपको ऐसा करने के लिए

नहीं बोलेंगे जैसा आप नहीं कर सकते। शेन वाटसन ने खुल कर कहा था कि अगर वह

किसी अन्य फ्रेंचाइजी में होते तो उन्हें या तो बाहर रखा जाता और उन्हें संन्यास लेने के

बारे में सोचना पड़ता। मुझे नहीं लगता कि सीएसके जैसी टीम कहीं मिलेगी और इसका

पूरा श्रेय धोनी और फ्लेमिंग को जाता है।’’ धोनी और ब्रावो के बीच रिश्ते कितने बेहतर हैं

इस बात का अंदाजा इससे ही लगाया जा सकता है कि जब भारतीय टीम विंडीज दौरे पर

गयी थी, उस समय ब्रावो ने धोनी के लिए जन्मदिन की पार्टी दी थी। ब्रावो अब धोनी पर

एक गाना लांच करने की योजना बना रहे हैं। ब्रावो ने कहा, ‘‘यह वाकई अजीब है।

हम दोनों में कई असमानताएं हैं।

मैं खुद अपने से पूछता हूं कि क्यों धोनी को मुझपर इतना भरोसा है। मेरे देश के बोर्ड और

चयनकर्ताओं को मुझपर ऐसा भरोसा नहीं है। लेकिन धोनी मेरी प्रतिभा का सम्मान करते

हैं। यह मेरे लिए बहुत सम्मान की बात है क्योंकि धोनी दुनिया के महान कप्तानों में से

एक हैं। वह मुझपर इतना भरोसा करते हैं जितना मैं उनके लिए कर भी नहीं पाता हूं।’’

ब्रावो ने कहा, ‘‘वह मुझे डैथ ओवरों में वह करने की छूट देते हैं जो मैं करना चाहता हूं।

अगर बहुत जरुरी हुआ तो मुझे सलाह देते हैं लेकिन मुझे अपने हिसाब से गेंदबाजी करने

की छूट रहती है। उन्हें पता है कि मैं जो कर रहा हूं उसमें मैं अच्छा हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं

जब अपनी प्रतिभा के अनुरुप अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करता हूं तो उन्हें नतीजों

की परवाह नहीं होती। वह कभी गुस्सा नहीं करते और परेशान नहीं होते हैं। मैंने धोनी को

अभ्यास सत्र में बहुत बार गेंदबाजी की है। उन्हें मेरी गेंदबाजी के तरीके के बारे में अच्छे से

पता है।’’

[subscribe2]



More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from बयानMore posts in बयान »

One Comment

Leave a Reply