fbpx Press "Enter" to skip to content

अखिल भारतीय स्तर पर रांची की डॉ भारती कश्यप को स्वर्ण पदक




  • मोतियाबिंद और लॉसिक सर्जरी में उत्कृष्ट योगदान

  • तमिलनाडू के मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

  • अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रिसर्च पेपर को सराहा गया

संवाददाता

रांचीः अखिल भारतीय स्तर पर उल्लेखनीय योगदान के लिए रांची की प्रसिद्ध नेत्र चिकित्सक

डॉ भारती कश्यप को उत्कृष्ट सेवा के लिए अखिल भारतीय स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया है।

चेन्नई में आयोजित समारोह में तमिलनाडू के मुख्यमंत्री ने उन्हें यह स्वर्ण पदक प्रदान किया।

चेन्नई में आयोजित इंट्राओक्युलर इम्प्लांट एंड रिफ्रैक्टिव सोसाइटी, इंडिया के

अखिल भारतीय स्तर के सम्मेलन में गोल्ड मेडल प्रदान किया गया।

यह सम्मान उन्हें तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एडाप्पडी के. पलानिस्वामी के द्वारा नेत्रचिकित्सा में

मोतियाबिंद और लासिक सर्जरी के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के फलस्वरूप दिया गया।

झारखंड जैसे छोटे से राज्य से आने के बावजूद भी डॉ. भारती कश्यप के द्वारा मोतियाबिंद

एवं लासिक सर्जरी के क्षेत्र में प्रति वर्ष यूरोप एवं अमेरिकन सोसाइटी की वार्षिक कांफ्रेंस में

प्रस्तुत किए गए रिसर्च पेपर को विदेशों में बहुत ही सराहा गया।

अखिल भारतीय स्तर पर डाक्टरों ने उनके विदेशो के रिसर्च पेपरों को सराहा

डॉ. भारती कश्यप ने अमेरिकन सोसाइटी के वार्षिक कांफ्रेंस सैन डिएगो 2019, वर्ष 2018 में वाशिंगटन डी. सी,

वर्ष 2017 में लॉस एंजेलिस में कई रिसर्च पेपर प्रस्तुत किए।

यूरोपियन सोसाइटी के वार्षिक कांफ्रेंस 2018 में वियना , 2017 में लिस्बन, 2016 में कोपेनहेगन ,

2015 में बार्सिलोना में रिसर्च पेपर प्रस्तुत किए, यूरोपियन सोसाइटी के 14 सितम्बर से 18 सितम्बर

तक पेरिस में आयोजित होने वाले वार्षिक कांफ्रेंस 2019 में तीन रिसर्च पेपर प्रस्तुत करने की स्वीकृति दी गई है।

चेन्नई के सम्मेलन में चिकित्सकों ने मोतियाबिंद सर्जरी लासिक सर्जरी और विभिन्न प्रकार की रिफ्रैक्टिव सर्जरी को सहज बनाने पर चर्चा की।

लाइव सर्जरी के माध्यम से भी चिकित्सकों ने अपने सर्जिकल कौशल का आदान-प्रदान किया।

फेमटो लेज़र से मोतियाबिंद ऑपरेशन एवं ब्लेड-लेस पद्धति से लासिक लेज़र पर भी चर्चा हुई।

विदेशों एवं देश के कोने-कोने से आये हुए प्रख्यात नेत्र चिकित्सकों अपने-अपने

सर्जिकल कौशल की विधि को साझा किया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •