fbpx Press "Enter" to skip to content

महिला पशु चिकित्सक के बलात्कार के सभी आरोपी मारे गये

  • पुलिस ने कहा भागने के क्रम में हुई मुठभेड़
  • घटनास्थल पर ले जाया गया था सभी को
  • घटना की समय में अंतर पर विवाद जारी

हैदराबादः महिला पशु चिकित्सक के साथ दुष्कर्म एवं हत्या मामले के सभी चारों
आरोपी शुक्रवार तड़के साइबराबाद पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे गये। चारो
आरोपियों की पहचान मोहम्मद अरीफ, नवीन, शिव और चेन्नाकेसवुलु के रूप में
हुई थी।

पुलिस ने दावा किया कि क्राइम सीन को रिक्रिएट करने के लिए चारों आरोपियों को
हैदराबाद के बाहरी क्षेत्र शादनगर के समीप चटनपल्ली ले जाया गया था।

इस दौरान चारों आरोपियों ने भागने की कोशिश और फिर पुलिस के साथ मुठभेड़
में मारे गये।

उन्होंने बताया कि मुठभेड़ उस स्थान से कुछ ही दूरी पर हुई जहां महिला पशु
चिकित्सक को जलाया गया था। पुलिस के सभी वरिष्ठ अधिकारी मुठभेड़ स्थल पर पहुंच गए हैं।

राज्य के एक सरकारी अस्पताल में सहायक पशु चिकित्सक के रूप में कार्यरत
महिला का शव 28 नवंबर की सुबह शादनगर में जली हुई हालत में मिली थी।

गौरतलब है कि साइबराबाद पुलिस ने 29 नवंबर को मामले में चार लोगों को
गिरफ्तार किया था और उन्हें शनिवार को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।

सभी आरोपियों की उम्र 24 साल से कम है। तेलंगाना सरकार ने मामले की जल्द
से जल्द सुनवाई के लिए बुधवार को फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित करने के आदेश जारी किये थे।

राज्य सरकार ने मामले की जल्द सुनवाई के लिए महबूबनगर जिले में प्रथम
अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश की अदालत को विशेष अदालत के रूप में
नामित किया था।

महिला पशु चिकित्सक बलात्कार कांड से पूरे देश में आक्रोश

दुष्कर्म एवं हत्या की इस घटना के बाद देश के लोगों ने आक्रोश था और जल्द से
जल्द  न्याय की मांग कर रहे थे। मुठभेड़ स्थल पर बड़ी संख्या में लोगों ने एकत्रित
होकर  साइबराबाद पुलिस के फैसले की सराहना की और साइबराबाद पुलिस
आयुक्त के पक्ष में नारे लगाये।

संसद में विभिन्न राजनीतिक दलों के कई सांसदों ने मामले की त्वरित सुनवाई
करने और आरोपियों को फांसी देने की मांग की थी।

प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के मुख्य प्रवक्ता के. कृष्णा सागर राव ने एक बयान में
कहा है कि पार्टी को लगता हैै कि हैदराबाद मुठभेड पर अभी प्रतिक्रिया देना जल्दबाजी होगी।

इस संबंध में केवल मीडिया की प्रारंभिक रिपोर्टें आई हैं और तेलंगाना पुलिस
महानिदेशक को इसे पूरे घटनाक्रम पर एक आधिकारिक बयान देना चाहिए।

उन्होंने कहा एक जिम्मेदार राष्ट्रीय पार्टी होने के नाते भाजपा पुलिस का
आधिकारिक  बयान आने के बाद बाद ही प्रतिक्रिया देगी।

दुष्कर्म और हत्या दिल दहलाने वाला अपराध है और भाजपा ने इसकी निंदा की है।

राज्य में एक जिम्मेदार विपक्षी दल होने के नाते भाजपा ने तेलंगाना सरकार पर
मामले में त्वरित कार्रवाई करने करने का दबाव डाला था।

श्री राव ने कहा कि देश कानूनी और संवैधानिक ढांचे से बंधा हुआ है।

अपराध पर राजनीति से अच्छी मिसाल कायम नहीं किया जा सकता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 Comments

Leave a Reply