Press "Enter" to skip to content

एके 203 से लैश होगी भारतीय सेना, चीन और पाकिस्तान पर दबाव




राष्ट्रीय खबर

नईदिल्लीः एके 203 जैसा आधुनिक हथियार भी शीघ्र ही भारतीय सेना के हाथों में होगा। इस नये हथियार के आने से भारतीय सेना पूरी सीमा पर ज्यादा बेहतर स्थिति में होगी। चीन और पाकिस्तान भी इस जानकारी से वाकिफ हैं। इसलिए समझा जा सकता है कि इन दोनों पड़ोसी देशों की सेना के तेवर थोड़े पीछे हटने वाले होंगे।




भारतीय सेना को अब इंसास के स्थान पर यह नया हथियार उपलब्ध कराया जा रहा है। आगामी छह दिसंबर को रुस के प्रधानमंत्री व्लादिमीर पुतिन एक दिन के लिए भारत दौरे पर आ रहे हैं। चर्चा है कि उसी दिन इस हथियार का समझौता भी कर लिया जाएगा। इस हथियार सौदे की कुल कीमत पांच हजार करोड़ रुपया होगी।

इसमें भारत को करीब पौने सात लाख एके 203 राइफल मिलेंगे। यह सभी राइफल पाकिस्तान और चीन की सीमा पर तैनात भारतीय सैनिकों को उपलब्ध कराया जाएगा। रक्षा सूत्रों के मुताबिक भारतीय सेना के हाथ आने वाले एके 203 में से सत्तर हजार राइफलों की सीधी खरीद होगी। शेष राइफलों को निर्माण उत्तरप्रदेश के अमेठी स्थित कारखाना में तैयार किया जाएगा।

रक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक एके 203 भारतीय सेना को अधिक ठंड में बेहतर कार्यकुशलता प्रदान करेगी क्योंकि पिछले तीन दशक से भारतीय सेना के पास जो इंसास राइफल हैं, वह अधिक ठंड में परेशानी देती है।




कारगिल युद्ध के दौरान भी यह पाया गया था कि उस कड़ाके की ठंड में इंसास राइफल की मैगजीन जाम हो रही थी। यह नया रुस निर्मित एके 203 वजन में हल्का है तथा इसकी मारक क्षमता बी इंसास के मुकाबले दोगुणी है।

एके 203 इंसास से अधिक कारगर हथियार

इंसास राइफल से एक मिनट में पांच सौ राउंड फायर किये जा सकते हैं जबकि यह नया हथियार एक मिनट में छह सौ राउंड फायर कर सकता है। पाकिस्तानी सेना की मदद से लगातार घुसपैठ की कोशिशों के बीच भारतीय सेना के पास अब दूर तक अचूक निशाना साधने का नया हथियार होगा।

दूसरी तरफ चीन की सीमा पर भी चीनी सैनिकों के मुकाबले भारतीय सैनिकों को गोली चालन की क्षमता अधिक हो जाएगी। इस एके 203 राइफल में रात को सटीक निशाना लगाने की सुविधा भी है।

इस वजह से भी इससे भारतीय सेना की ताकत और बढ़ जाएगी। वैस इसके साथ ही भारतीय सेना के पास पहले से ही सिग 716 राइफल मौजूद है। इस वजह से इन दोनों सीमाओं पर भारतीय सेना की फायर पावर और बढ़ जाएगी।



More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

2 Comments

  1. […] भारतीय सेना और सुरक्षा एजेंसियों ने पड़ोसी देश की सभी साजिश विफल करने के लिए हमेशा सतर्क रहता है । आज संवाददाताओं से बात करते हुए मुख्यमंत्री शर्मा ने कहा कि पूर्वोत्तर राज्य में अफस्पा के कार्यान्वयन पर पुनर्विचार करेगा केंद्र सरकार । […]

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: