fbpx Press "Enter" to skip to content

वकील हत्याकांड पर भाजपा नेता अभय सिंह का सरयू राय पर पलटवार

  • वह सूद चुकाते हैं तो मैं चक्रवृद्धि ब्याज देता हूं

  • हत्या पर राजनीति करना गलत आदत है

  • पुलिस ने चार लोगों को लिया है हिरासत में

  • अर्जुन मुंडा को ढाल बनाना बंद करें विधायक

पार्थो चक्रवर्ती

जमशेदपुरः वकील प्रकाश यादव की हत्या के मुद्दे पर सरयू राय के बयान के बाद झाविमो

छोड़कर भाजपा में आये नेता अभय सिंह मैदान में ताल ठोंककर उतर आये हैं। आज

उन्होंने भी इस मुद्दे पर एक प्रेस वार्ता कर जमशेदपुर के विधायक सरयू राय को निशाने

पर लिया। वैसे इस हत्या पर राजनीति गरमाने के बीच ही पुलिस ने इस हत्या के

सिलसिले में चार लोगों को हिरासत में लिया है। वकील प्रकाश यादव द्वारा कुछ भू

माफियाओँ के खिलाफ सरकारी जमीन कब्जा करने की प्राथमिकी को आधार बनाकर

पुलिस अभी जांच कर रही है।

इस हत्या के विरोध में पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के सक्रिय होने उनके खेमा से कई किस्म

के आरोप लगाने जाने के बाद सरयू राय ने इस मामले की जांच की मांग सरकार से कर दी

है। उन्होंने पूरे मामले और जमीन कब्जा करने के सारे मामलों की जांच के लिए एक तीन

सदस्यीय टीम का भी गठन करने का एलान कल ही किया था।

वकील की हत्या पर कहा कि अपराध की राजनीति नहीं करते

पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के साथ झाविमो छोड़कर भाजपा में आये नेता अभय सिंह

ने भी इस मुद्दे पर मोर्चाबंदी करते हुए बिना नाम लिये ही सरयू राय को सीधी चुनौती दे

डाली। बातों ही बातों में वह बोल गये कि भले ही श्री राय ने चारा घोटाला में लालू यादव को

जेल पहुंचाया हो लेकिन जो युवा वकील मरा वह गरीब परिवार का बेटा था। इस मौत पर

भी अगर वह राजनीति कर रहे हैं तो इससे घटिया और कोई बात नहीं हो सकती है। उन्होंने

इस बात पर एतराज जताया कि एक व्यक्ति की मौत के बाद भी इस किस्म की राजनीति

का वह हमेशा से विरोध करते आये हैं। बातों ही बातों में भाजपा नेता यह उल्लेख करना

नहीं भूले कि बार बार सरयू राय किसी को भी सूद सहित वापस देने की बात करते हैं तो

उन्हें याद रखना चाहिए कि वह भी आरोपों को चक्रवृद्धि व्याज सहित ही लौटाते हैं।

अपनी बात रखने के क्रम में श्री सिंह ने स्पष्ट कर गये कि पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास से

उनकी मतभिन्नता रही है। अब एक ही दल में होने की वजह से यह मतभेद अपनी जगह

है लेकिन इससे कोई मन का भेद नहीं है। इसी क्रम में सरयू राय द्वारा केंद्रीय मंत्री अर्जुन

मुंडा का नाम इस विवाद में लिये जाने पर भी अभय सिंह ने सरयू राय की आलोचना की।

उन्होंने कहा कि श्री मुंडा पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं, इसलिए अपने बचाव के लिए श्री मुंडा को

भी ढाल बनाना घटिया राजनीति है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पूर्वी सिंहभूमMore posts in पूर्वी सिंहभूम »
More from बयानMore posts in बयान »

One Comment

Leave a Reply