fbpx Press "Enter" to skip to content

महाधिवक्ता ने छोटे वकीलों के लिए एडवोकेट रिलीफ फंड का किया गठन

रांची : महाधिवक्ता ने छोटे वकीलों का ध्यान देते हुए कहा लॉक डाउन रोज कमाने-खाने

वालों को संकट में डाल दिया है वहीं, कुछ वकीलों की स्थिति भी अच्छी नहीं है। इस लॉक

डाउन की वजह से इनके पास अब कोई काम नहीं रह गया है, काम नहीं होने की वजह से

छोटे वकीलों की स्थिति खराब हो गई है। इसको देखते हुए महाधिवक्ता ने एडवोकेट

रिलीफ फंड का गठन किया और कहा कि इस फंड के जरिये उन वकीलों की मदद की

जाएगी जो आर्थिक रूप से कमजोर है। हालांकि वकीलों का पेशा बस पैसे कमाना है पर यह

सराहनीय कदम महाधिवक्ता ने शुरू करते हुए अपनी सूझबूझ और देशहित में एक नई

मिशाल कायम की है। उन्होने इस फंड का गठन करते हुए अपनी ओर से एक लाख रुपए

भी दिए। साथ ही उन्होंने सारे वरीय अधिवक्ताओं से भी इस फंड में राशि डोनेट करने का

आग्रह किया है ताकि, विपरीत परिस्थिति में इस फंड का उपयोग किया जा सके। उन्होंने

यह भी आग्रह किया है कि इस फंड में बड़े औद्योगिक घरानो से भी मदद कराएं।

महाधिवक्ता द्वारा तीन सदस्यीय कमेटी बनाई गई

रिलीफ फंड के संचालन के लिए महाधिवक्ता द्वारा तीन सदस्यीय कमेटी भी बनाई गई

है। जो वकीलों से प्राप्त आवेदनों पर अंतिम निर्णय लेगी व आर्थिक तौर पर उन

जरूरतमंदो की मदद करेगी जो बिलकुल ही असक्षम और काम नहीं मिलने से परेशान है।

वकीलों से मागें जाएंगे आवेदन

जिन्हें पैसों की जरूरत होगी उनसे आवेदन मांगे जाएंगे। उन आवेदनों की जांच गठित 3

सदस्यीय कमेटी करेगी। उक्त कमेटी आवेदनों की सत्यता जांचेगा, कमेटी यह देखेगी की

आवेदन देने वाले को पैसों की आवश्यकता है या नहीं। जिन्हें जरूरत होगी उन्हें फंड से

यथाशक्ति मदद की जाएगी। इस कोशिशों से छोटे वकीलों में खुशी व आस दिखाई दी।

सरकार से भी मांगी थी मदद

लॉक डाउन की वजह से वकीलों को काम नहीं मिल रहे थे। जिस वजह से उनके सामने

आर्थिक संकट गहरा रहा था। जिसको लेकर वकीलों ने सरकार से मांग की थी कि उन्हें भी

सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जाए पर अबतक कोई कार्रवाई नहीं की गयी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat