fbpx Press "Enter" to skip to content

कथारा बांध कॉलोनी के डबल स्टोरी क्वाटर के छज्जे का बड़ा हिस्सा घंसा

बेरमोः कथारा बांध कॉलोनी के सीसीएल आवासीय क्वाटर मे रविवार को अहले सुबह एक

बड़ा हादसा होते होते टल गया। मिली जानकारी के अनुसार आज अहले सुबह लगभग चार

बजे बांध कॉलोनी में सीसीएल कर्मियो के लिए रहने के लिए डबल स्टोरी क्वाटरो का

निर्माण करवाया गया है जिसमे दर्जनों सीसीएल कर्मी अपने परिजनों के साथ रह रहे हैं

मगर इन क्वाटरो की दशा इतनी बद से बदत्तर है कि सीसीएल कर्मी जान जोखिम में

डाल यहां किसी तरह रह रहे हैं। हलाकि स्थानीय लोगों की माने तो इन जर्जर क्वाटरो को

लेकर सीसीएल कथारा को अनेको बार लिखित शिकायत दी गई मगर हर बार यह कह कर

टाल दिया गया कि कायाकल्प योजना के अंतर्गत यह कार्य होगा और जिसका लोगो को

डर था वही हुआ मगर रहने वालो के भाग्य अच्छे थे कि घटना अहले सुबह घटी और उक्त

कॉलोनी का छज्जा का एक बड़ा हिस्सा भरभरा कर टूट गया। अगर यही हादसा दिन के

उजाले में होता तो हादसा दर्दनाक होता और संबंधित अधिकारियों को जवाब देना भारी

पड़ जाता। उक्त घटना की जानकारी जैसे ही गोमिया विधायक डॉ लंबोदर महतो को मिली

उन्होने बेरमो एसडीएम को फोन कर तत्काल घटना की सूचना दी और फिर क्या था देखते

ही देखते घटना स्थल पर पुलिस, प्रशासन का भारी जमावड़ा हो गया। पंचायत के मुखिया

तुलसी यादव और पंसस गोपाल यादव को जैसे ही घटना की जानकारी मिली आनन

फानन वहां पहुच यह पता लगाने मे जुट गए कि छज्जे के मलवे मे कोई दबा तो नही है

मगर हर तरह से संतुष्ट होने के बाद दोनो ने राहत की सांस ली।

कथारा बांध कॉलोनी में उस वक्त कोई करीब नहीं था

कथारा बांध कॉलोनी के डबल स्टोरी क्वाटर के छज्जे का बड़ा हिस्सा घंसा

इधर एसडीएम के आदेश पर गोमिया बीडीओ कपिल कुमार, सीआई सुरेश बरनवाल,

गोमिया थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर आशीष खाखा, कथारा ओपी प्रभारी बबुआ नन्द

भगत, बोकारो थर्मल एएसआई मनोहर मंडल, गोमिया विधायक पुत्र शशि कुमार आदि

घटना स्थल पर पहुंच घटना की विस्तृत जानकारी ली। जब लोगो को पता चला कि जान

माल की कोई हानि नही हुई है तब जाकर लोगो ने चैन की साँस ली। इधर घटना की सूचना

पाकर सीसीएल कथारा स्टाफ आफिसर्स असैनिक आर प्रधान एंव परियोजना अभियंता

संजय सिंह भी मौके पर पहुच वस्तु स्थिति से अवगत हुए। जबकि जर्जर क्वाटरो मे रहने

वाले सीसीएल कर्मियो व उनके परिजनों मे संजू देवी, गोपी तुरी, सहदेव राम, श्रीकांत

यादव, सुरेश करमाली, गोपीनाथ रजवार शांति देवी, मटरु कुमार, गुलाची देवी, नारायण

करमाली, बालेश्वरी देवी तथा क्षेत्र के समाजीक कार्यकर्ता हेमू यादव, गोबिंद यादव, विनोद

ठाकुर, कारु आदि ने मिडिया को जर्जर डबल स्टोरी कॉलोनी का अवलोकन करवाते हुए

सीसीएल प्रबंधन पर कई गंभीर आरोप लगाये। कहा कि यह जो घटना घटी है इसका

जिम्मेवार सीसीएल प्रबंधन और सीसीएल के सिविल विभाग के आला अधिकारी है और

अगर इतने पर भी सीसीएल नही चेतती है तो एक ना एक दिन यहां कोई ना कोई बड़ा

हादसा देखने को मिलेगी। हलाकि इस घटना के बाद लोगो मे सीसीएल प्रबंधन के विरुद्ध

भारी आक्रोश भी देखा गया। जबकि स्थानीय समाजसेवीयों ने गोमिया विधायक श्री

महतो से मांग किया कि इस मामले को संज्ञान में लेते हुए तथा त्वरित कार्रवाई करते हुए

इस क्वाटरो की अविलंब मरम्मती करवाई जाये मजदूरों को दुसरी सुरक्षित स्थान पर रखा

जाये। कुल मिलाकर सीसीएल मे कितना झोल है यह इस घटना के बाद साफ उजागर हो

गया। ऐसे भी सीसीएल कथारा प्रक्षेत्र का असैनिक विभाग अपने कार्य कलापों के लिए

पहले से ही काफी बदनाम है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बोकारोMore posts in बोकारो »
More from हादसाMore posts in हादसा »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: