fbpx Press "Enter" to skip to content

ओरमांझी के आनन्दी की 20 वर्षीया युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

ओरमांझीः ओरमांझी के आनन्दी वीरटोली निवासी स्वर्गीय धनपत महतो की 20 वर्षीय

पुत्री कविता कुमारी ने सोमवार की सुबह अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर

ली। फांसी की सूचना पाते ही ओरमांझी थाना टीम घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की

जानकारी लिया और ग्रामीणों की सहायता से फांसी पर लटकी युवती को उतारकर

पंचनामा के उपरांत पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया। घटना के संबंध में मिली

जानकारी के अनुसार कविता कुमारी रविवार की रात अपने परिजनों के साथ खाना खाकर

सोने चली गयी। सुबह को कविता की मां ने देखा कि जहाँ कविता सोयी हुई थी वहां पर

सोयी हुई नही है। जिसके बाद इधर उधर खोजा गया तो नही मिला। फिर सीढ़ी के ऊपर

चढ़कर देखा तो सीढ़ी रूम में रस्सी के सहारे फांसी लगाकर कविता झूल रही है। जिसके

बाद परिजन खूब चीखने चिल्लाने लगें जिसकी आवाज सुनकर आसपास के लोग जुट

गए। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की

तफ्तीश में जुट गई । पुलिस में शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज

दिया जिसके बाद दोपहर में पोस्टमार्टम के उपरांत शव को परिजनों को सौंप दिया गया ।

ओरमांझी के आनन्दी की लड़की रांची में पढ़ती थी

शव घर पहुंचते ही परिजनों का रो रो कर बुरा हाल था पूरा गांव मातम में डूब गया है। शव

को देख अंदेशा जताया जा रहा है कि कविता कुमारी चिंता में आकर आत्महत्या की होगी।

मालूम हो कि कविता कुमारी राम लखन कॉलेज रांची में बीए पार्ट थर्ड की छात्रा है।लॉक

डाउन के चलते वह घर मे ही रह रही थीं।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!