Press "Enter" to skip to content

30 साल बाद यूपी ने जूनियर राष्ट्रीय हॉकी में जीता स्वर्ण







लखनऊ: 30 साल बाद खिताबी सूखा खत्म करते हुए उत्तर प्रदेश (यूपी) की पुरुष जूनियर हॉकी टीम ने चंडीगढ़ को फाइनल में 3-1 से मात देकर स्वर्णिम सफलता हासिल करते हुए इतिहास रच दिया। यही नहीं टोक्यो ओलंपिक में 41 साल भारतीय हॉकी टीम के पदक जीतने के चलते बदले माहौल में यूपी हॉकी टीम ने इस सत्र में 6 में से चार पदक जीतकर परचम लहरा दिया।

इन पदक विजेता खिलाड़ियों के स्वागत के क्रम में यूपी की स्वर्ण पदक विजेता जूनियर हॉकी टीम का मंगलवार शाम को वापसी पर लखनऊ के केडी सिंह बाबू स्टेडियम में भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान यूपी हॉकी के महासचिव डा.आरपी सिंह ने खुद खिलाड़ियों की अगवानी की।

उत्तर प्रदेश के खेल निदेशक का दायित्व निर्वहन कर रहे डा.आरपी सिंह ने इस अवसर पर यूपी सरकार की ओर से पदक विजेता टीम के लिए साढ़े पांच लाख रुपए के नगद पुरस्कार की घोषणा की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि टीम वर्क से ये सफलता मिली है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सफलता कड़ी मेहनत से ही मिलती है और सफलता का कोई शार्टकट नहीं होता। उन्होंने खिलाड़ियों को सोर्स सिफारिश से बचने की सलाह दी।

30 साल बाद स्वर्ण पदक जीतकर यूपी हॉकी का झंडा बुलंद कर दिया है

खेल निदेशक डा.आरपी सिंह के अनुसार वर्तमान सत्र में यूपी की हॉकी टीम ने राष्ट्रीय स्तर पर हुए टूर्नामेंटों में 6 में से 4 पदक जीतकर अपनी काबिलियत का लोहा मनवा दिया है। उन्होंने कहा कि यूपी की इस शानदार जीत के क्रम को आगे बढ़ाने के लिए यूपी हॉकी नई प्रतिभाओं को आगे बढ़ाएगा।

उन्होंने कहा कि यूपी हॉकी संघ अपने खिलाड़ियो को भविष्य के स्टार के तौर पर चमकने का पूरा मौका देने की योजना बना रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि खेलो इंडिया योजना के अंतर्गत एक जिला एक खेल योजना को जल्द शुरू करने के लिए हर जिले में समितियां बन रही है।

इस अवसर पर मौजूद यूपी हॉकी के उपाध्यक्ष विनय कुमार राय ने कहा कि तमिलनाडु में हुई 11वीं हॉकी इंडिया जूनियर पुरुष राष्ट्रीय हॉकी चैंपियनशिप में उत्तर प्रदेश टीम ने एक बार फिर से स्वर्ण पदक जीतकर यूपी हॉकी का झंडा बुलंद कर दिया है और विश्वास जताया कि ये सिलसिला आगे भी जारी रहेगा। उन्होंने आगे कहा कि आने वाले समय में यूपी हॉकी में बदलावों की बयार बहेगी।

पूरे टूर्नामेंट में यूपी टीम ने सभी मैचों में जीत दर्ज की

इस दौरान लखनऊ के क्षेत्रीय क्रीड़ाधिकारी अजय कुमार सेठी व अन्य भी मौजूद थे। यूपी ने 11वीं जूनियर राष्ट्रीय पुरुष हॉकी चैंपियनशिप के फाइनल में चंडीगढ को 3-1 से मात दी। पूरे टूर्नामेंट में यूपी टीम ने सभी मैचों में जीत दर्ज की। इससे पहले यूपी टीम ने क्वार्टर फाइनल में दिल्ली को 9-0 और सेमीफाइनल में हरियाणा को 8-3 से मात दी थी। वहीं लीग दौर में यूपी ने उत्तराखंड को 11-0 से और मध्य प्रदेश को 12-2 से मात दी थी।

यूपी टीम में शामिल अंतर्राष्ट्रीय सितारे लखनऊ के शारदानंद तिवारी ने सर्वाधिक 14 गोल दागे। वहीं अरुण साहनी ने 12 गोल किए। इस टीम में शारदानंद तिवारी, अरुण साहनी, आमिर अली, मनीष साहनी, विकास गौड़ व गोलकीपर प्रतीक निगम सहित लखनऊ के 6 खिलाड़ी शामिल थे।



More from HomeMore posts in Home »
More from खेलMore posts in खेल »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: