fbpx Press "Enter" to skip to content

आतंकवादियों ने 26 बांग्लादेशियों को गोली से भून डाला

प्रतिनिधि

ढाकाः आतंकवादियों ने लिबिया की राजधानी त्रिपोली से करीब 180 किलोमीटर की दूरी

पर 26 बांग्लादेशी नागरिकों की गोली मारकर हत्या कर दी गयी है। घटना से किसी तरह

बचकर निकले एक युवक ने पास में कहीं छिपने के बाद बांग्लादेश के दूतावास को इसकी

सूचना दी है। यहां तक पहुंची जानकारी के मुताबिक मानव तस्करी के तहत ले जाये गये

दल को अचानक इन आतंकवादियों का सामना करना पड़ा। इन्हें फिरौती के लिए पहले तो

बंधक बनाया गया था। इस दल में कुल 38 लोग थे। इनमें चार अफ्रीकी मूल के लोग भी

शामिल थे। मानव तस्करों द्वारा चोरी छिपे ले जाये जा रहे लोगों से जब फिरौती की

उम्मीद नहीं रही तो आतंकवादियों ने गोली मारकर इनकी हत्या कर दी। यह घटना

मिजदाह शहर के पास घटी है। प्रत्यक्षदर्शी और हमले से बचकर निकले युवक ने पास में

ही किसी लिबिया के नागरिक के घर में शरण ली हुई है। उसके मुताबिक पहले तो पकड़े

गये लोगों पर अत्याचार किया गया। अंत में जब यह स्पष्ट हो गया कि जिनलोगों को

उनलोगों ने पकड़ रखा है, उनसे पैसे नहीं मिल सकते तो गोलियां चलायी गयी। इस हमले

में मानव तस्करी दल का सरगना भी खुद मारा गया है, जो इस दल के साथ ही चल रहा

था। इन सभी को काम देने के नाम पर चोरी छिपे ले जाया जा रहा था। मिली सूचना के

मुताबिक इस गोलीबारी में 11 अन्य बांग्लादेशी घायल भी हुए हैं। उन्हें भी गोलियां लगी

हैं, लेकिन वे तब तक मरे नहीं थे।

आतंकवादियों ने फिरौती के लिए सभी को पकड़ा था

बांग्लादेश दूतावास के कर्मचारी मिजदाह अस्पताल के अधिकारियों से संपर्क कर घायलों

के ईलाज का प्रबंध कर चुके हैं। दूसरी तरफ लाशों को उसी अस्पताल में रखने का अनुरोध

किया गया है। वहां का बांग्लादेश दूतावास अन्य घायलों के बेहतर ईलाज के लिए उन्हें

अन्य अस्पतालों में ले जाने का प्रबंध कर रहा है। इनमें से तीन लोगों का ऑपरेशन कर

उनके शरीर से गोलियां निकाल दी गयी हैं लेकिन उनकी हालत अब भी गंभीर है। चोरी

छिपे वहां गये लोगों की पहचान जानने के भी प्रयास किये जा रहे हैं। इस घटना पर

बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने शोक व्यक्त किया है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from आतंकवादMore posts in आतंकवाद »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बांग्लादेशMore posts in बांग्लादेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!