Press "Enter" to skip to content

कलाकृति स्कूल ऑफ आर्ट्स में माताओं ने बिखेरा रैंप में अपना जलवा




  • कैनवास पर उकेरा बच्चों के सपनें

  • डिंपल चौधरी को मिला बेस्ट मां का खिताब

    रांची : कलाकृति स्कूल ऑफ आर्ट्स एवं कलाकृति आर्ट फाउंडेशन द्वारा

रविवार को डोरंडा कन्या पाठशाला प्रांगन में ‘मदर्स डे’ का आयोजन किया गया।

इस अवसर 200 से अधिक माताओं ने भाग लिया। इस अवसर पर माताओं के लिए

विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गयीं, जिसमें सभी माताओं ने अपने बच्चों के साथ मिल कर इसमें भाग लिया।

मोस्ट क्रिएटिव मदर के लिए चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

माताओं ने अपने चित्र के माध्यम से अपने बच्चों के लिए उनके क्या सपने हैं, उसे उकेरा।

दूसरे प्रतियोगिता में सुपर मदर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया

एवं बेस्ट ड्रेस्ड, डांसिंग दिवा, सिंगिंग दिवा मदर का भी चयन किया गया

इस अवसर पर सभी माताओं ने रैंप पर चल कर अपनी प्रतिभा का लोहा मंगवाया।

बहुत सी माताओं ने अपनी-अपनी नृत्य और संगीत कला का भी प्रदर्शन कर

सबको मंत्र मुग्ध कर दिया। कलाकृति स्कूल ऑफ आर्ट्स के छात्रों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी।

मुख्य अतिथि के रूप मिसेज इंडिया क्लासिक की विजेता एवं मिसेज एशिया पोपुलर रिंकू भक्त उपस्थित थीं

।े विशिष्ट अतिथि के रूप में डा. रश्मि, निदेशक संतोष कॉलेज ऑफ टीचर, नारंग इन्फोटेक से सन्नी नारंग एवं डॉटफिश से शशिकांत जी उपस्थित थे।

इस अवसर में श्रीमती भक्त ने कहा कि सभी बच्चों को अपनी मां का आदर सम्मान करना चाहिये।

कलाकृति स्कूल ऑफ आर्टस के निदेशक ने बच्चों को संबोधित किया




इस अवसर पर कलाकृति के निदेशक धनंजय कुमार ने कहा की बच्चों को अपनी जननी मा को सर्वोच्च स्थान देना चाहिए।

माताएं अपना सबकुछ त्याग कर भी अपने बच्चों को एक मुकाम तक ले कर जाती हैं।

हम सब को अपनी मां के सपनों को साकार करने के लिए अपना जीवन न्यौछावर कर देना चाहिये।

सुपर मॉम के लिए ओवरआल विजेता रहीं डिंपल चौधरी वहीं नम्रता सिंह क्रिएटिव मदर की

विजेता रही, माधुरी दुबे को बेस्ट ड्रेस्ड मदर का पुरस्कार मिला।

सरिता लामा को डांसिंग दिवा मदर एवं कस्तूरी कुमारी को सिंगिंग दिवा का पुरस्कार दिया गया। सभी विजेताओं को क्राउन पहनाया गया।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.