Press "Enter" to skip to content

उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण को अमेरिकी राष्ट्रपति की हरी झंडी




मिसाइल परीक्षण आपसी विश्वास का उल्लंघन नहीं : ट्रम्प

मास्को : उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के बारे में अमेरिका गंभीर नहीं है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ‘पोलिटिको’ को दिए एक साक्षात्कार में कहा है कि

उन्होंने उत्तर कोरिया की ओर से हाल में किए गए मिसाइल परीक्षणों को आपसी विश्वास का उल्लंघन नहीं माना है।

ट्रम्प ने उत्तर कोरिया की ओर से हाल में किए गए मिसाइल परीक्षणों के महत्व को नजरअंदाज करते हुए कहा,

‘‘वे कम दूरी की मिसाइलें थीं और मैं नहीं मानता इससे आपसी विश्वास टूटा है।’’

ट्रम्प का यह साक्षात्कार शनिवार को प्रकाशित हुआ।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस बात के संकेत दिए कि इसका उनके और उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता

किम जोंग उन के दोस्ताना रिश्तों पर असर पड़ सकता है।

उल्लेखनीय है कि उत्तर कोरिया ने पिछले सप्ताह कई मिसाइल परीक्षण किए थे।

दक्षिण कोरिया के मुताबिक इन मिसाइलों की मारक क्षमता 43 से 124 मील तक थी।

प्योंगयांग ने गुरुवार को भी मिसाइल परीक्षण किए।

दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ ने बताया कि 270 से 420 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली

दो मिसाइलों का परीक्षण किया गया।

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने भी उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षणों की पुष्टि की है।

गौरतलब है कि कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर

फरवरी में हनोई में ट्रम्प और किम के बीच हुई वार्ता विफल रही थी।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कूटनीतिMore posts in कूटनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.