Press "Enter" to skip to content

बुर्का पर भी रहेगी नजर और महिला करेगी जांच




गढ़वा :बुर्का पहनकर आने वाली महिलाओं की भी जांच की जाएगी।

इसके लिए अलग से महिला कर्मचारी को तैनात किया जाएगा।

लोकसभा चुनाव को निर्विवाद रूप से संपन्न कराने के लिए अनवरत जारी ट्रेनिंग का दौर

आज डाउट क्लीयरेंस और ईपीएम हैंड साउंड ट्रेनिंग के साथ संपन्न हो गया।




बूथ पर बुर्का के अंदर के चेहरे की पहचान के लिए किसी स्थानीय महिला को नियुक्त करने का निर्देश दिया गया है।

बता दें कि जिले भर के मतदानकर्मियों को अंतिम ट्रेनिंग के जिला मुख्यालय के गोविंद उच्च विद्यालय में बुलाया गया था।

उन्हें सदर एसडीओ प्रदीप कुमार ने डाउट क्लीयरिंग और ईवीएम हैंड साउंड ट्रेनिंग दी।

उन्होंने वीवीपैट मशीन को धूप अथवा प्रकाश में नहीं रखने की जानकारी दी।

लूज कनेक्श्न होने पर आराम से मशीन को ऑफ कर फिर से कनेक्ट करने की जानकारी दी।

साथ ही यह भी कहा कि उनके पास तीस प्रतिशत मशीन रिजर्व है।

कोई भी गड़बड़ी होने पर बीडीओ और मास्टर ट्रेनर को अविलंब सूचना करें।

एक मतदान कर्मी के सवाल का जबाब देते हुए एसडीपीओ ने कहा कि

बुर्का पहनकर वोट देने वाली महिलाओं की पहचान करने के लिए बूथ पर स्थानीय महिला की नियुक्ति की जा सकती है।

यह अधिकार पीठासीन पदाधिकारी को है।

उन्होंने यह भी बताया कि आज सारे ट्रेनिंग समाप्त हो गए।

अब मतदान कर्मी सीधे कलस्टर और वहां से अपने-अपने बूथ पर जाएंगे।

उन्होंने मतदान कर्मियों को किसी दल के नेता अथवा अपने रिश्तेदार के घर में

किसी भी परिस्थिति में नहीं ठहरने का आदेश दिया।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.